Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

भोपाल से विनोद तिवारी की रिपोर्ट

 

भोपाल : सो नंबर की गाड़ी जिसका करोड़ों रुपए का किराया सरकार दे रही है, क्या वह 100 नंबर की गाड़ियां बंद हो गई है या सिर्फ वसूली ही कर रही हैं। ऐसी घटना दुर्घटना जब बड़ी-बड़ी 100 नंबर की गाड़ियां चल रही है उसके बाद क्यों ? किस बात का पैसा इन 100 नंबर की गाड़ियों पर ज़ाया हो रहा है।

भाजपा पर कसा तंज़

आपको कोई ना कोई यह विचार करना पड़ेगा कि ऐसी दुर्घटनाएं क्यों हो रही है उसकी तह में जाना पड़ेगा। लगातार स्थानांतरण होने से कर्मचारियों अधिकारियों के हौसले बुलंद हो रहे हैं कि हमारी पीठ पर सरकार का हाथ है और उसका यह भोग बच्चियां, बेटियां, परिवार मां-बाप, थानों के चक्कर काट काट कर भोग रहे हैं।

पुलिस पर लगाया आरोप

पुलिस वालों की नैतिकता ही खत्म हो गई है वह कहते हैं ना पुलिस वाले अपने बाप के भी नहीं होते।

अधिकारियों पर लगाया आरोप

15 दिन में जितने भी दुराचार हुए हैं वह एक व्यक्ति द्वारा नहीं किया गया बल्कि सामूहिक हुए हैं। अब प्रश्न यह उठता है कि कारण क्या है ? जब राजनीतिक हस्तक्षेप अधिकारी कर्मचारियों की पदस्थापना में विशेषकर पुलिस महकमे है में राजनीति ज्यादा हो जाती है ओर अधिकारियों को लगने लगता है कि विशेष आशीर्वाद प्राप्त है तो वह अपने कर्तव्य निष्ठा का पालन करना भूल जाते हैं और उन नेताओं के पीछे घूमने लगते हैं। फिर ऐसी गैंगरेप जैसी दुर्घटनाएं घटनाएं दुराचार होना चालू हो जाते हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: