Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

 

हिंदू जागरण मंच के जिला उपाध्यक्ष पुनीत शाक्य ने लिया संज्ञान

व्हाट्सएप पर लगाये थे हिन्दू देवी देवताओं और सवर्णों को अपमानित करने वाले स्टेटस

फैजगंज बैहटा -जनपद बदायूं के थाना फैजगंज बैहटा क्षेत्र राजा की सीकरी में हिंदू सांस्कृतिक सनातन धर्म के देवी-देवताओं पर सोशल मीडिया पर हिन्दू देवी देवताओं और सवर्ण वर्ग के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में थाना फैजगंज बेहटा क्षेत्र के ग्राम राजा की सीकरी से एक युवक को गिरफ्तार किया गया है।

टिप्पणियां इतनी ज्यादा आपत्तिजनक थीं कि इनको देखकर सम्प्रदाय विशेष के लोगों में आक्रोश फैल गया और उन्होंने पुलिस के साथ साथ हिन्दू जागरण मंच के जिला उपाध्यक्ष पुनीत शाक्य को भी सूचित कर दिया। सूचना के बाद हिंदू जागरण मंच के जिला उपाध्यक्ष पुनीत कुमार शाक्य ने तत्काल संज्ञान लेते हुए थाना फैजगंज बैहटा प्रभारी चरण सिंह राणा व आसफपुर चौकी प्रभारी राजेश कौशिक को अवगत कराया पुनीत शाक्य द्वारा सूचित किये जाने के बाद हरकत में आई आसफपुर पुलिस ने आरोपी के गांव में दबिश देकर उसे दबोच लिया। मामला राजा की सीकरी से जुड़ा हुआ है।

यहां के रहने वाले युवक सद्दाम उर्फ भूरे खां पुत्र विनायत खां ने अपने व्हाट्सएप स्टेटस पर एक के बाद एक कई आपत्तिजनक पोस्टें अपलोड कीं जिनमे हिन्दू देवी देवताओं के साथ साथ हिंदुओ के सवर्ण वर्ग के बारे में अत्यंत ओछी और भद्दी टिप्पणियां की गईं थीं। गाँव के लोगों द्वारा भूरे खां के स्टेटस देखने के बाद जब आपत्ति की गई तो आरोपी माफी मांगने के बजाय लड़ने झगड़ने को तैयार हो गया। इस बात की सूचना क्षेत्र में आग की तरह फैल गयी। किसी ने इसकी सूचना हिन्दू जागरण मंच के पुनीत शाक्य को दे दी। उन्होंने तत्काल इसकी सूचना थाना पुलिस को दी जिसके बाद आसफपुर पुलिस चौकी इंचार्ज राजेश कौशिक ने पुलिस बल के साथ आरोपी सद्दाम उर्फ भूरे को उसके गांव से दबोच लिया।

पुलिस ने जब उससे कठोरता से पोस्टों के बारे में पूछा तो उसने सब कुछ कबूल कर लिया। अभी तक जितनी भी जानकारी निकल कर सामने आई है उसके अनुसार आरोपी भूरे खां जेहादी प्रवृत्ति का इंसान है जिसने इन पोस्टों के जरिये क्षेत्र में उन्माद फैलाने और दंगा भड़काने की साजिश रची थी। वो अपनी साजिश में कामयाब भी हो जाता अगर पुलिस ने समय रहते कार्यवाही न की होती। घटना के संबध में सब इंस्पेक्टर आसफपुर राजेश कौशिक का कहना है कि आरोपी पर धारा 295 A (जानबूझकर धार्मिक उन्माद फैलाना और दंगे भड़काने की साजिश रचना) के तहत अभियोग पंजीकृत कर जेल भेजा जा रहा है। पुलिस कई दूसरे पहलुओं से भी इस घटना की जांच कर रही है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *