Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644


उज्जैन। उज्जैन में कोरोना के संक्रमित व्यक्तियों की बढ़ती हुई संख्या एवं मृत्युदर के बढ़ते हुए आंकड़े और संक्रमित पॉजिटिव व्यक्तियों को ठीक करने हेतु इंदौर के लगभग सभी हॉस्पिटलों में डिसरिम इंजेक्शन लगाए जा रहे हैं जो कि 4 हजार के अंदर ही आते हैं। राज्य सरकार प्रत्येक व्यक्ति के इलाज हेतु हजारों रुपए प्रतिदिन का भुगतान आर्डी गार्डी मेडिकल कॉलेज एवं शासकीय हॉस्पिटलों में कर रही है परंतु वहां दवाइयों के नाम पर पेरासिटामोल एवं अन्य गोलियों को दिया जा रहा है जिससे कि संक्रमित व्यक्ति शीघ्रता से ठीक नहीं हो रहा है और जो मुख्य संक्रमण को रोकने के लिए डिसरिम इंजेक्शन है जो कि प्रभावी है वहां किन कारणों से नहीं दिया जा रहा है इस पर विचार जिला कलेक्टर, सीएमओ एंव अधिकारियों को विचार विमर्श कर निर्देशित करना चाहिए।

 


उक्त मांग शहर कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष रवि राय ने करते हुए कहा कि कोरोना मरीजों का यह इंजेक्शन प्रभावी है जिससे वह शीघ्रता से स्वस्थ हो सकता है। संक्रमण नहीं फैलता, इंजेक्शन लगाने से मृत्यु दर भी कम होगी। अभी तक यहां इंजेक्शन क्यों नहीं लगाया जा रहा है शासन द्वारा दिए जाने वाली राशि में से मात्र दवाइयों पर 20 प्रतिशत की राशि खर्च की जा रही है। बाकि राशि कहां जा रही है इस पर विचार होना चाहिए। रवि राय ने कहा कि अभी तक शासकीय एवं मेडिकल कॉलेजों में रेफर किए गए मरीजों पर कुल कितना व्यय किया गया है, यह उज्जैन की जनता के सामने रखना चाहिए। क्योंकि शासन के द्वारा दी गई राशि का उपयोग हो रहा है अथवा अपव्यय होकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: