Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644
अधिकारियों को चिंता सता

उज्जैन।  प्रदेश के साथ ही उज्जैन में भी अब कोरोना बेकाबू हो गया है। न केवल जिला प्रशासन के आला अधिकारियों को चिंता सता रही है वहीं स्वयं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को भी डर सताने लगा है क्योंकि शिवराज ही नहीं बल्कि उनके कुछ एक मंत्रियों और यहां तक कि हमारे स्थानीय ही कुछ कतिपयों ने कोरोना को मजाक में ले रखा था लेकिन अब कोरोना का मजाक उड़ाने वाले घबरा रहे है।

 


कंटेनमेंट क्षेत्रों को छोड़कर बाजार, होटल-रेस्त्रां सब खुले हैं,  कुल कोरोना संक्रमितों की करीब 30 फीसदी संख्या इसी दौरान सामने आई है। राज्य मेंउज्जैन समेत  अभी तक 1791 लोग कोरोना से जान गंवा चुके हैं। प्रदेश के उज्जैन समेत  52 में से 23 जिलों में 1000 से ज्यादा नए मरीज सामने आ रहे हैं, वहीं 35 जिलों में कोरोना से मौत की संख्या दोगुनी है। इससे यह आशंका जोर पकड़ रही है कि महामारी का संक्रमण अब गांवों में फैसलने लगा है। आलम यह है कि  शहर में व्यापारी खुद इस कदर डरे हुए हैं कि उन्होंने एकमत से बाजार समय से पहले बंद करने का स्वेच्छा से फैसला किया है।

 अस्पतालों में बेड फुल इसके बावजूद कोरोना जांच की संख्या नहीं बढ़ पा रही है।

सोमवार को 20 हजार से कुछ अधिक नमूनों की जांच हुई, जबकि जांच क्षमता 22 हजार से अधिक है। कम जांच का सीधा गणित यह है कि उज्जैन समेत  राज्य के तमाम बड़े शहरों में अस्पताल और कोविड सेंटर में बिस्तर 85 फीसदी फुल हो चुके हैं। नियमों की धज्जियां उड़ा रहे हैं नेता उधर, उप चुनाव के मद्देनजर राजनीतिक गतिविधियां तेज होने से लोग भी बड़ी संख्या में सभाओं, रैलियों और स्वागत समारोहों में जुट रहे हैं।

शारीरिक दूरी और मास्क के नियमों की नेता खुद ही धज्जियां उड़ाने में लगे हैं।

रविवार को आए 70 संक्रमित मरीजों के बाद सकते में जिला प्रशासन ने  आनन-फानन में बैठक का आयोजन किया। इस दौरान कलेक्टर ने बढते कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए एक्शन प्लान तैयार किया। कलेक्टर ने आदेश जारी किए है किए है कि मास्क नहीं लगाने वाले लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाए। इसके लिए कलेक्टर ने 1000 लोगों को अस्थाई जेल भेजने और चालानी कार्रवाई करने के दिशा निर्देश दिए है।

जिले में लगातार कोरोना का संक्रमण बढ रहा है।

जिसके चलते शासकीय और निजी अस्पतालों में मरीजों की भीड है। रविवार को भी जिले में 70 कोरोना मरीज सामने आए है। जिसके चलते आने वाले दिनों में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सोमवार को सिंहस्थ मैला कार्यालय में आयोजित बैठक में एक्शन प्लान तैयार किया गया। बैठक में निर्णय लिया गया कि शहर में निकलने वाले और कोरोना संक्रमण को रोकने लिए आवश्यक दिशा निर्देशों का पालन नहीं करने वाले लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाए।

इसके लिए कलेक्टर ने मास्क नहीं लगाने वाले लोगों पर 1000 रूपए चालानी कार्रवाई और अस्थाई जेल पहुंचाने का निर्णय लिया। कलेक्टर ने 1000 लोगों को अस्थाई जेल पहुंचाने का टारगेट दिया है। कलेक्टर आशीष ंिसंह ने बताया कि मास्क नहीं पहनने वाले लोगों पर सख्ती के लिए शहर में 12 पुलिस टीम लगाई गई है। जिनके टारगेट तय कर दिए गए है। इसके अलावा नगर निगम की टीमों का गठन भी किया गया है। कलेक्टर के आदेश के बाद पुलिस टीमों ने सख्ती बढा है। शहर के विभिन्न क्षेत्रों में पुलिस और निगम की टीम चालानी कार्रवाई कर रही हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: