Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

अकोदिया न्यूज़

 


_जमीन से सटे तारों में चिपक गई बाईक, स्पॉट पर ही हो गई तीनों की मौत_


    मामला अकोदिया समीपस्थ ग्राम लसुडलिया मेहा का है जहां बिजली कंपनी की लापरवाही ने तीन लोेगों की जान ही ले ली। दरअसल ये लोग अपनी बहन से मिलने के लिए आए थे, जहां से वापस लौटते समय हादसे का शिकार हो गए।   जानकारी के अनुसार भवानी सिंह पिता छीतूलाल (35) निवासी मनासा अपनी पत्नी माया बाई और एक अपने साथी कमल पिता अमरा जी के साथ अपनी बाईक पर सवार होकर अपनी बहन सपना पति कुमेर सिंह के यहां ग्राम लसुल्डिया मेहा आए हुए थे। जहां से मिलकर ये लोग शाम लगभग 5 बजे वापस अपने गांव मनासा जा रहे थे।

जब ये लोग गांव से कुछ दूरी पर ही पहुंचे थे कि वहां पड़े बिजली के तार इनकी बाईक के पिछले पहिये में फंस गए, जिससे इनकी बाईक में करंट फैल गया। करंट इतनी तेजी से फैला कि तीनों को संभलने का मौका भी नहीं मिला और तीनों की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना मिलने पर सलसलाई थाना प्रभारी केके चौबे पूलिस जवानों के साथ मौके पर पहुंचे और तीनों के शवों को पीएम के लिए अस्पताल पहुंचाया। पुलिस द्वारा मामले की जांच की जा रही है।


_बिजली विभाग की लापरवाही आई सामने_

    मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने बताया कि मामले में कई बार बिजली कंपनी को शिकायत की गई कि विद्युत पोल टूटा हुआ है। आप लोग इसे दुरुस्त कर दें। लेकिन हर बार कंपनी के अधिकारी हमें आश्वासन ही देते रहे। ग्रामीणों ने बताया कि हम लोग तो जानते थे कि यहां तार टूटे हुए हैं, लेकिन हमें डर था कि जो अंजान लोग हैं कहीं वे यहां हादसे का शिकार न हो जाएं और आज यही हुआ और ये तीनों लोग हादसे का शिकार हो गए।


_जमीन से सटकर गुजर रहे थे तार_ 

  जहां ये हादसा हुआ है वहां से ये तार गुजर रहे हैं। पहले यहां विद्युत पोल लगा हुआ था जो काफी समय पहले टूट चुका था और एक लकड़ी के पोल से ये तार टीके हुए थे जिसका एक हिस्सा जमीन से सटकर गुजर रहा था। यही वजह थी कि बाईक पर सवार होने के कारण इन लोगों को ये तार दिखाई नहीं दिए जिससे हादसा हो गया।

Leave a Reply

%d bloggers like this: