Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

पं०कामेश्वर पाठक को दी गई संगीतांजलि

ठुमरी के क्षेत्र में इनके योगदानों को हमेशा याद किया जाएगा

गया। प्रख्यात ठुमरी गायक दिवंगत पं० कामेश्वर पाठक जी की चौथी पुण्यतिथि पूर्वी राम सागर रोड स्थित एक निजी होटल में श्रद्धा पूर्वक मनाई गई। सूर सलिला के बैनर तले आयोजित पुण्यतिथि समारोह में उनके तैलीय चित्र पर उपस्थित लोगों ने पुष्पांजलि अर्पित की एवं दीप प्रज्वलित कर दिवंगत आत्मा की चिर शांति के लिए ईश्वर से कामना की। उपस्थित लोगों ने इनके जीवन कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि गया घराने की ठुमरी गायन के क्षेत्र में स्वर्गीय पाठक जी का अहम योगदान रहा हैं। उन्हें ठुमरी गायन के क्षेत्र में अनगिनत सम्मानों से समानित किया गया था।

इसे भी पढ़े : प्रशासन की संयुक्त टीम ने अलग अलग दो जगह छापेमारी कार्यवाही की ।

इस अवसर पर स्वर्गीय पाठक की पुण्यतिथि पर देश के नामचीन कलाकारों की संगीत प्रस्तुति देकर उन्हे संगीतांजलि दी गई। जिसमें कोलकाता के सुप्रसिद्ध खयाल व ठुमरी गायकी काकोली चक्रवर्ती ( कोलकाता ) , पंडित सतीश मिश्रा ( ख्याल एवं ठुमरी ) राँची , पंडित धर्म दास जी सुप्रशिद्ध हार्मोनियम व ठुमरी गायक ( हार्मोनियम संगत ) बनारस, पिनाकी चक्रवर्ती ( तबला संगत ) कोलकाता की बेहतरीन प्रस्तुति रही।इन सभी कलाकारों को अंग वस्त्र व कामेश्वर पाठक सम्मान से सुर सलिला गया जी के द्वारा सम्मानित किया गया। इस अवसर पर संगीतकार राजन सिजुआर, महेश लाल गुपुत, डॉ नंदकिशोर गुप्ता, महेश लाल हल सहित शहर के शिक्षाविद, संगीतकार एवं बुद्धिजीवी वर्ग उपस्थित थे।

Leave a Reply