Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644
नकली कीटनाशक दवा से छले जा रहे किसान

सीतापुर से ब्यूरो चीफ अजय सिंह की रिपोर्ट

सीतापुर।मौसम की मार, साहूकारों के कर्ज से त्रस्त किसानों को बीज बेचने वाले दुकानदार भी नहीं छोड़ रहे हैं। ब्रांडेड कंपनियों के नाम पर डुप्लीकेट बीज और दवाइयां बेच रहे हैं। जानकारी के अभाव में किसान उनके झांसे में आकर ऐसे बीजों और दवाइयों की खरीददारी कर रहे हैं, जो अंकुरित नहीं होते और ना ही दवाइयां काम करती हैं। किसान इसकी शिकायत कर रहे हैं, लेकिन कृषि विभाग ने चुप्पी साध रखी है। कहा जा रहा है कि इस धंधे में कृषि विभाग के लोग खुद ही शामिल हैं। इसी के चलते ने धंधे में खेल किया जा रहा है।


नकली कीटनाशकों को बाजार लगातार बढ़ रहा है और इससे किसानों को नुकसान हो रहा है। जिलेभर में संचालित कई कीटनाशक दुकानों पर कृषि विभाग की मिलीभगत से प्रतिबंधित और नकली कीटनाशक दवाओं को बेचा जा रहा है। नकली कीटनाशक से फसलें चौपट होने लगी की भी शिकायतें होनी लगी है।
कृषि विभाग की मेहरबानी से जिले मेें कीटनाशक विक्रेता अमानक बीज, खाद, एवं नकली कीटनाशक दवाओं का विक्रय कर रहे हैं। जानकारी के अभाव में क्षेत्र में किसान नकली बीज ओर अमानक स्तर का खाद खरीदने को मजबूर होकर दुकानदारों से लुट रहे हैं।

कई रसायनों और कीटनाशकों को तो मापदंड पर खरा नहीं उतरने और अधिक जहरीला होने के कारण बंद कर दिया गया है, लेकिन फसलों में तुरंत असर करने की बात कहकर दुकानदारों द्वारा किसानों को थमा दिया जाता है। नकली और अमानक बीज की शिकायत अभी तक किसानों द्वारा की जा रही है। अब नकली और अमानक कीटनाशक दवाओं की शिकायत भी किसानों द्वारा की जाने लगी है। किसानों ने खेतों कीटनाशकों का छिड़काव करना शुरू कर दिया है, लेकिन कीटनाशक दवाओं का असर नहीं हो रहा है।

विभागीय अधिकारियों द्वारा इन नकली कीटनाशक दवा विक्रेताओं के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होने के कारण इनका मनोबल बढ़ते जा रहा है।

प्रतीकात्मक चित्र

Leave a Reply