Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

उज्जैन। वार्ड क्रमांक 46 स्थित श्री राम चैतन्य बाल हनुमान मंदिर उद्यान में जीर्णोंध्दार करने, चारों और सुरक्षा व्यवस्था व मंदिर को शासकीय कराये जाने को लेकर 15 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें मांग की गई कि उद्यान की भूमि पर अवैध निर्माण करने वाले पार्षद विजयसिंह दरबार तथा पूर्व पार्षद जयसिंह दरबार के खिलाफ तत्काल कोई ठोस कदम उठाया जाए। इसके साथ ही रहवासियों ने चेतावनी भी दी कि समिति की मांग पूर्ण नहीं हुई तो आगामी नगर निगम चुनाव में दोनों ही दलों को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा, वार्ड 46 में श्री राम चैतन्य बाल हनुमान जनकल्याण समिति के साथ रहवासी पूर्ण रूप से चुनाव का बहिष्कार करेंगे।


शहर कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं समिति सचिव अर्जुनसिंह राठौर ने बताया कि पार्षद रिंकू दीपक बैलानी को ज्ञापन सौंपते हुए कहा कि शास्त्रीनगर उद्यान का नाम 17 अप्रैल 2005 को मंदिर निर्माण होने के पश्चात श्री चैतन्य बाल हनुमान मंदिर उद्यान रखा गया था, लेकिन पूर्व पार्षद द्वारा पक्षपातपूर्ण तरीके से भगवान के नाम पर रखे उद्यान का नाम परिवर्तित करते हुए स्व. पं. गिरिजाशंकर व्यास उद्यान रख दिया, उद्यान का नाम पुनः भगवान के नाम पर किया जाए। पश्चिम दिशा की ओर स्कूल के सामने एक नवीन ब्लॉक ट्रेक का निर्माण किया जाए, ताकि बारिश के समय में दर्शनार्थियों को आने जाने में तथा सैर करने वालों को सुविधा हो सके। व्यायामशाला के सामने नवीन द्वार का निर्माण होना अति आवश्यक है। उद्यान में एलईडी लाईटें लगवाई जाएं। उद्यान की भूमि पर अवैध तरीके से व्यायामशाला का निर्माण 17 अगस्त 2003 को पूर्व पार्षद जयसिंह दरबार द्वारा किया गया था। जब गार्डन में 17 लाख की लागत से ओपन जिम बना है तो एक इन्डोर व्यायामशाला की क्या आवश्यकता है। जयसिंह दरबार की तरह ही उनके अनुज विजयसिंह दरबार पार्षद वार्ड क्रमांक 47 की कब्जे वाली नीति वार्ड 46 में भी अपना रहे हैं। व्यायामशाला में बाथरूम, शौचालय बना हुआ है, निकासी की व्यवस्था नहीं होने से उद्यान में गंदगी फैलेगी, ऐसे में अवैध व्यायामशाला को अतिशीघ्र तुड़वाने की कार्यवाही की जाए।


कम्यूनिटी हॉल का हो निर्माण


शास्त्रीनगर वार्ड क्रमांक 46 के गली नंबर 1 से 10 की जनसंख्या करीब 4500 है, लेकिन यहां एक भी कम्यूनिटी हॉल नहीं है। यहां कम्यूनिटी हॉल का निर्माण करवाया जाए ताकि शास्त्रीनगर के श्रमिक व मजदूर परिवार अपनी बहन बेटियों की शादियों में कम शुल्क में उपयोग कर सकेंगे।


40 सालों से समस्याओं से जूझ रहा शास्त्रीनगर


देश में स्वच्छता अभियान चल रहा है वहीं शास्त्रीनगर पिछले 40 वर्षों से समस्याओं से जूझ रहा है। हर घर में शौचालयों का निर्माण हो रहा है लेकिन शास्त्रीनगर में 40 वर्षों से ओपन सिवेज लाईन का उपयोग हो रहा है। 30 बाय 50 के टीन शेड के मकान की गलियों में उससे गंदगी फैल रही है। जिससे निवासीगण बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं।

पुलिस गश्त हो, जलभराव की समस्या दूर हो


उद्यान प्रांगण मंदिर का समय प्रातः 6 से 12 तथा सांध्य 5 से 10 तक होना चाहिये, साथ ही दोपहर 12 से 5 बजे तक उद्यान में ताले लगावाने का प्रबंध किया जाए ताकि उद्यान में असामाजिक तत्व, युवक-युवतियों का जमावड़ा न हो। रात में पुलिस गश्त निरंतर करवाई जाए। वार्ड 46 में समस्त गलियों में बारिश के समय जलभराव की जो गंभीर समस्या होती है, उसे तत्काल दूर किया जाए। नालियां न बनाते हुए अंडर ग्राउंड ड्रेनेज सिस्टम की व्यवस्था की जाए। बड़े नाले का काम अधूरा पड़ा है, उसे पूर्ण किया जाए।

रफ्तार पर लगे अंकुश, स्पीड ब्रेकर बनें


उद्यान के 3 प्रमुख द्वार है, जिस पर सिढ़ीनुमा चढ़ाव को हटाकर स्लेब का निर्माण कराया जाए ताकि वृध्द दर्शनार्थी, महिलाओं, बच्चों को चढ़ने में परेशानी का सामना न करना पड़े। वार्ड 46 की समस्त गलियों में वाहनों की रफ्तार पर अंकुश के लिए स्पीड ब्रेकर का निर्माण करवाया जाए, स्ट्रीट लाईटों की मरम्मत हो, जो लाईटें बंद है उसे शीघ्र चालू करवाया जाए।

Leave a Reply