Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

भोपाल। मध्य प्रदेश को आक्सीजन की आपूर्ति में महाराष्ट्र, गुजरात और हरियाणा के अधिकारी बाधा बन रहे हैं । वे मध्य प्रदेश के लिए आने वाले आक्सीजन के टैंकरों को अपने राज्यों में रोक रहे हैं । इससे मध्य प्रदेश में आक्सीजन की उपलब्धता पर असर पड़ रहा है । अन्य राज्यों के अधिकारियों की इस हरकत पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कड़ी आपत्ति दर्ज कराई है । मुख्यमंत्री ने तीन ट्वीट कर आक्सीजन टैंकरों को रोकने को अपराध बताते हुए कार्रवाई की मांग की है । मुख्यमंत्री ने ट्वीट में लिखा है कि संक्रमण की विषम परिस्थितियां बनी हुई हैं, संकटकाल है । आक्सीजन संजीवनी है । ऐसे में कुछ राज्यों के अधिकारी आक्सीजन के टैंकर रोक रहे हैं, जो अनुचित है और अपराध भी है ।

मध्य प्रदेश के आक्सीजन टैंकरों को अन्य राज्यों में कुछ अधिकारियों द्वारा रोका गया था । इससे समय बर्बाद होता है और इस दौरान कुछ मरीजों की जान जाने का खतरा बना रहता है । मैं इन राज्यों के मुख्यमंत्रियों से अपील करता हूं कि ऐसे अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें, जो ऑक्सीजन के टैंकरों को अकारण रोक रहे हैं । जानकारी के अनुसार, राजस्थान में धौलपुर के पास मध्य प्रदेश के लिए आ रहा ऑक्सीजन टैंकर रोका गया था । इस पर शिवराज सिंह ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से बात की । इसके बाद टैंकर धौलपुर से रवाना किया गया । इसी तरह गुजरात में सूरत कलेक्टर ने तो हरियाणा में रेवाड़ी के पास टैंकर रोके गए थे । यहां भी दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों से शिवराज ने बात की । तब आक्सीजन टैंकर मध्य प्रदेश की ओर रवाना हो सके ।


उत्तरप्रदेश में भी रोकी ऑक्सीजन, शिवराज ने योगी से बात की, तब कलेक्टरों ने छोड़े टैंकर


सोमवार को गाजियाबाद के मोदी नगर और झांसी में अफसरों ने मध्यप्रदेश आ रहे ऑक्सीजन टैंकर रोक लिए । मंत्रालय सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसको लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की । इसके बाद टैंकर छोड़े गए । इसी तरह गुजरात में भी टैंकर को रोका गया । ये टैंकर मध्य प्रदेश तब रवाना हो पाए, इन घटनाओं को मुख्यमंत्री ने मंत्रियों के साथ हुई बैठक में भी सांझा किया । इस पर कुछ मंत्रियों ने सुझाव दिया कि जिस तरह से देश में कोरोना संक्रमण बढ़ता जा रहा है, इस तरह की दिक्कतें हर रोज सामने आएंगी । लिहाजा गृह मंत्री से बात कर स्थाई समाधान होना चाहिए । एक मंत्री ने यह सुझाव दिया कि ऑक्सीजन के टैंकरों में मप्र पुलिस के जवानों के बजाय गृह मंत्रालय से सीआरपीएफ के जवानों को तैनात करने बात होना चाहिए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *