Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

अगर आपने इंटरनेट पर अश्लील साइट देखने के बाद गंदी हरकत की तो अब खैर नहीं. इसके लिए उत्तर प्रदेश पुलिस की 1090 सेवा ने नई योजना बनाई है.

इंटरनेट पर अश्लीलता देखने वालों पर अब 1090 की एक टीम नजर रखेगी. ऐसा करना वालों को सचेत किया जाएगा. यह सारी जानकारी पुलिस के पास दर्ज भी हो जाएगी. भविष्य में यदि उस इलके में छेड़खानी या दुष्कर्म जैसी वारदात होती है तो वही डेटा काम आएगा और अपराधी पकड़ लिया जाएगा.

इसे भी पढ़े : तपोवन में रेस्क्यू ऑपरेशन जारी, NTPC ने भी मुआवजा देने का किया ऐलान

एडीजी नीरा रावत ने बताया कि इंटरनेट के बढ़ते हुए प्रयोग को देखते हुए 1090 ने भी लोगों तक पहुंचने के लिए इसी माध्यम का प्रयोग किया.

एडीजी के मुताबिक इंटरनेट के एनालिटिक्स को स्टडी करने के लिए oomuph नाम की एक कंपनी से रखा गया है. वो डेटा के माध्यम इंटरनेट क्या सर्च किया जा रहा है इस पर नजर रखेगी. अगर कोई व्यक्ति इंटरनेट पर अश्लीलता देखते है तो उसके संकेत एनालिटिक्स टीम को मिल जाएंगे.

टीम उसके बारे में 1090 टीम को बता देगी. 1090 की टीम उस व्यक्ति को ऐसी सामग्री से सचेत रहने के लिए जागरूकता के मेसेज भेजेगी.

इसे भी पढ़े : कनाडाई PM ट्रूडो ने मोदी के साथ बातचीत में किसानों के मुद्दे पर भारत की सराहना की

ऐसा करने से अपराध की शुरुआत पर ही रोक लगाई जा सकेगी. यदि फिर भी महिलाओं से छेड़छाड़ की तो 1090 कार्रवाई करेगा. नीरा रावत ने बताया कि पायलेट प्रोजेक्ट के तहत सूबे के छह जिलों में यह व्यवस्था शुरू कराई गई थी, जिसमें काफी अच्छा रिस्पांस आया है.

Leave a Reply