Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

26 जनवरी को किसान ट्रैक्‍टर रैली के दौरान हुई हिंसा के बाद मोदी सरकार की ओर से ट्विटर को कई बार खालिस्‍तान और पाकिस्‍तान की ओर से समर्थित भारत के खिलाफ चल रहे ट्विटर अकाउंट बंद करने को कहा गया. इसके बाजवूद ट्विटर इस मामले में हीलाहवाली कर रही थी.

अब सरकार की ओर से ट्विटर को इस मामले में आदेश का पालन न करने पर आईटी एक्‍ट के सेक्‍शन 69ए (3) के तहत कार्रवाई भुगतने की चेतावनी देने के बाद कंपनी एक्‍शन में आई है और भारत के खिलाफ चल रहे ऐसे अकाउंट बंद करने शुरू कर दिए गए हैं.

इसे भी पढ़े : शिवराज सरकार जंगली जानवरों से फसलों के नुकसान पर देगी 5000 का मुआवजा

टाइम्‍स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार ट्विटर ने भारत सरकार को अब भरोसा दिया है कि कंपनी सरकार की आपत्तियों की ओर ध्‍यान देगी. इसके साथ ही सरकार की ओर से आईटी एक्‍ट के सेक्‍शन 69ए के तहत भेजे गए नोटिस में कंटेंट पर उठाए गए सवालों पर भी गौर करेगी.

जानकारी यह भी मिली है कि ट्विटर पर किसान नरसंहार हैशटैग के अंतर्गत जिन 257 अकाउंट से ट्वीट किया गया था, उनमें से 126 को बंद कर दिया गया. कुछ दिन पहले ट्विटर ने उन्‍हें सिर्फ ब्‍लॉक किया था. उनमें से कई को फिर खोला गया. अब फिर से उनमें से कई को फिर से ब्‍लॉक कर दिया गया है.

इसे भी पढ़े : पृथ्वी पर लौटते वक्त रूसी अंतरिक्ष यान में हुआ धमाका, एस्ट्रोनॉट्स ने शेयर की तस्वीरें

यह भी दावा किया गया है कि सरकार ने हाल ही में जिन 1178 ट्विटर अकाउंट के पीछे पाकिस्‍तान और खालिस्‍तान का हाथ होने की बात कहकर उन्‍हें बंद करने का आदेश दिया था, उनमें से 583 अकाउंट को ब्‍लॉक कर दिया गया है. सरकार के अनुसार ये अकाउंट गलत सूचनाएं और भड़काऊ साम्रगी फैला रहे थे.

Leave a Reply