Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

बरेली, में नया मोबाइल फोन खरीदने की सनक ऐसी सवार हुई कि युवक ने तहेरे भाई के साथ रिश्तों का भी कत्ल कर दिया। उसके खतरनाक इरादों से अनजान युवक बहन की शादी में बाइक देने के लिए एकत्र किए रुपये लेकर साथ चल दिया। चार फरवरी को रास्ते में उसकी हत्या की, पहचान न हो इसलिए कपड़े जला दिए। रविवार को आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया।

बहेड़ी के बड़ौरा गांव निवासी चौधरी लाल सिंह का बेटा अभिषेक गुरुग्राम में रहकर एक कैंटीन में नौकरी करता था। उम्र 17 साल थी, मगर परिवार की जिम्मेदारी में हाथ बंटाने में लगा रहता था। 16 फरवरी को उसकी बहन की शादी है। तैयारी के लिए वह एक फरवरी को छुट्टी लेकर चला। कैंटीन मालिक से कहा कि बहन की शादी में उपहार स्वरूप बाइक देनी है, इसलिए 15 हजार रुपये दे दे।

इसे भी पढ़े : UN का खुलासा- अलकायदा के आतंकी समूहों को तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान ने किया एकजुट

रुपये लेकर वह तीन फरवरी को रुद्रपुर में चाचा सुखवीर के घर पहुंचा, शापिंग भी की। चार फरवरी को तहेरे भाई सौरभ के साथ गांव के लिए रवाना हुआ। उसकी जेब में 12 हजार रुपये बचे थे। जिसे देखकर सौरभ ने अभिषेक की हत्या करने की योजना बना ली। रास्ते में शराब खरीदकर सकुटिया गांव के खेत में बैठा। वहीं दोनों ने शराब पी। अभिषेक को नशा ज्यादा हो गया तो उसने धारदार हथियार से उसके हाथ की नसें काट दीं।


इसके बाद खेत में फावड़ा देख उसी से सिर व सीने पर कई वार कर हत्या कर दी। पहचान न हो, इसलिए कपड़े जला दिए। पूरा घटनाक्रम देर शाम को हुआ, इसलिए किसी को पता नहीं चला। घटना के बाद सौरभ घर पहुंच गया, मगर अभिषेक के न आने पर स्वजन ने तलाशा। उसकी बातों से संदेह होने पर स्वजन थाने ले गए। जहां उसने हत्या की बात स्वीकार ली। खेत से शव व जले हुए कपड़े भी बरामद हो गए।

इसे भी पढ़े : भारतीयों ने खालिस्तान समर्थकों को दिया करारा जवाब, कनाडा में निकाली तिरंगा रैली

आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। 12 हजार रुपये के लिए उसने तहेरे भाई की हत्या कर दी थी। उससे पूछताछ की जा रही है।

– पंकज पंत, इंस्पेक्टर, बहेड़ी

पब्लिश दिनांक- 08/02/2021

–एलबी कुर्मी
ब्यूरो हेड बरेली

Leave a Reply