Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

मोदी सरकार में देश ने अब बड़ी सफलता हासिल कर ली है. केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने जानकारी देते हुए बताया कि भारत के पास अब रिकॉर्ड 590 अरब डॉलर का विदेशी मुद्रा भंडार है, जो साल भर पहले की तुलना में 119 अरब डॉलर अधिक है.

उन्होंने कहा कि इसके साथ ही देश अब शुद्ध ऋणदाता बन गया है. शुद्ध ऋणदाता ऐसी स्थिति को कहा जाता है जब विदेशी मुद्रा भंडार कुल विदेशी कर्ज से अधिक हो जाये. भारत के ऊपर 554 अरब डॉलर का विदेशी कर्ज है.

इसे भी पढ़े : भारतीय रेलवे ने फिर रचा नया कीर्तिमान, चला दी 295 डब्बे और 5 इंजल वाली सबसे लंबी ट्रेन “वासुकी”

ठाकुर ने कहा कि देश महामारी के बाद V आकार का पुनरुद्धार देख रहा है, जो पिछले 4 महीनों के दौरान माल एवं सेवा कर के संग्रह से स्पष्ट है. उन्होंने कहा, यदि आप भारतीय विदेशी मुद्रा भंडार देखते हैं, तो भारत में विदेशी मुद्रा भंडार 590 अरब डॉलर से अधिक है, जो अब तक का सबसे ऊंचा स्तर है.

इसे भी पढ़े : भारतीयों ने खालिस्तान समर्थकों को दिया करारा जवाब, कनाडा में निकाली तिरंगा रैली

यह पिछले वर्ष की तुलना में 119 अरब डॉलर अधिक है. यदि आप विदेशी ऋण को देखते हैं, तो यह केवल 554 अरब डॉलर है. अत: भारत अब एक शुद्ध ऋणदाता है.

Leave a Reply