Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

राजस्थान निकाय चुनाव के बाद जीते हुये पार्षदों की चल रही बाड़ाबंदी में भी गुटबाजी खुलकर सामने आ रही है. ऐसा ही एक मामला सीकर जिले के खाटूश्याम जी में सामने आया है.

यहां चूरू की सरदारशहर नगरपालिका के लिये चुने गये कांग्रेस के पार्षदों की बाड़ाबंदी गई है. यहां मौजूद कांग्रेस पार्षद आपस में ही भिड़ गए. इनमें एक गुट गहलोत और दूसरा पायलट से जुड़ा हुआ है.

इसे भी पढ़े : US ने नए कृषि कानूनों का किया समर्थन

दोनों गुटों के पार्षदों के बीच जमकर पथराव भी हुआ. सूचना पाकर मौके पर पुलिस भी पहुंची, लेकिन किसी भी पक्ष ने किसी के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं कराया है. विवाद के 2 कारण सामने आ रहे हैं. इनमें निकाय प्रमुख पद के विवाद को लेकर नामांकन और दूसरा एक गुट द्वारा जबर्दस्ती दूसरे गुट के पार्षद को अपने पक्ष में करने की कोशिश बताई जा रही है.

जानकारी के अनुसार, सरदारशहर से जीते कांग्रेसी पार्षदों की बाड़ाबंदी खाटूश्यामजी में गोल्डन वाटर पार्क के पास धर्मशाला सावरथिया में की गयी है. इस दौरान बाड़ाबंदी में बंद दो पार्षदों को लेने के लिये सरदारशहर से कुछ लोग खाटूश्यामजी पहुंचे.

इसे भी पढ़े : म्यांमार में तख्तापलट के बाद सेना ने अब फेसबुक पर भी लगाया अस्थायी रोक

इससे दोनों पक्षों में पत्थरबाजी व मारपीट हो गयी. धर्मशाला में ठहरे पार्षदों ने बाहर खड़े लोगों पर पत्थर फेंके. मारपीट की सूचना मिलते ही थानाधिकारी पूजा पुनिया मौके पर पहुंचीं और उन्‍हें समझाने का प्रयास किया. बाहर से आये लोगों ने धर्मशाला में बंद दो पार्षद शिवभगवान सैनी और राजकुमारी को अपरहण कर लाये जाने का आरोप लगाया.

Leave a Reply