Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644


उज्जैन। महात्मा गांधी हमारी आत्मा में बसे हैं, उन्होंने जिस तरह सत्य और अहिंसा के रास्ते पर चल कर हमें आज़ादी दिलवाई, वह अनुकरणीय है। आप सब विद्यार्थियों को गांधीजी के दर्शन का अध्ययन करके उसे आत्मसात करना चाहिए।


ये उद्गार माधव कॉलेज में महात्मा गांधी की पुण्य तिथि पर उन्हें श्रदांजलि देते हुए प्राचार्य डॉ जे एल बरमैया ने व्यक्त किए। इसके पूर्व स्टॉफ द्वारा दो मिनट का मौन रखकर राष्ट्र पिता को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस अवसर पर महात्मा गांधी के जीवन पर दर्शन शास्त्र विभागाध्यक्ष डॉ शोभा मिश्र द्वारा आयोजित चित्र प्रदर्शनी का उद्घाटन प्राचार्य डॉ जेएल बरमैया द्वारा किया गया।

इसे भी पढ़े : अवयस्क बालिका के साथ छेडखानी करने वाले आरोपी को 03 वर्ष के कठोर कारावास की सजा

मुख्य वक्ता प्रो. हरिसिंह कुशवाह ने महात्मा गांधी के जीवन और राष्ट्रीय आन्दोलन में उनके योगदान पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि गांधीजी का चिन्तन आदर्श समाज और राज्य की स्थापना के लिए बहुत ज़रूरी है।

गांधीजी की प्रतिमाएं देश भर में स्थापित हैं। इससे उनकी लोकप्रियता का अंदाज़ा लगाया जा सकता है। अर्थशास्त्र विभाग की डॉ शारदा शिन्दे ने गांधीजी के आर्थिक दर्शन को लागू करने की आवश्यकता पर बल दिया। डॉ रफीक नागौरी और डॉ शोभा मिश्र ने गांधी दर्शन पर अपनी स्वरचित कविताएं भी सुनाई। डॉ दीपक भारतीय ने भजन प्रस्तुत किया। एनएसएस अधिकारी डॉ नीरज सारवान ने आभार व्यक्त किया। डॉ ममता पंवार, डॉ दिनेश जोशी, डॉ ज्योति वैद्य, डॉ अल्पना दुभाषे, डॉ एस के व्यास आदि विशेष रूप से उपस्थित थे।

Leave a Reply