Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644
अपराधियों के हौसले इतने बुलंद है कि घर में घुसकर गला रेत कर हत्या की

पीड़ित दर-दर भटकने को मजबूर

आरोपियों को अब तक हसंवर पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पाई

अंबेडकर नगर। उत्तर प्रदेश सरकार के एंटी क्रिमिनल ऑपरेशन जनपद अंबेडकर नगर में दम तोड़ती नजर आ रही है। और आए दिन घटनाओं का सिलसिला जारी है और अपराधियों के हौसले इतने बुलंद है कि घर में घुसकर गला रेत कर हत्या की घटना को अंजाम दे रहे हैं। आपको बताते चलें कि हसवर थाना क्षेत्र की घटना जहां पिता को मौत के घाट उतारने के बाद अब अपराधी परिवार वालों को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं!

वही पीड़ित आफताब हुसैन के पिता हबीबुर्रहमान की बीते दिनों हत्या कर दी जाती है और फिर फायरिंग करते हुए बदमाश फरार हो गए। पीड़ित ने बताया कि मोहम्मद शादाब पुत्र अब्दुल रऊफ मोहम्मद मसरूफ पुत्र अब्दुल रज्जाक पिस्टल और बांका लेकर क्लीनिक में घुस आए और मेरे पिता हबीबुर्रहमान अपनी जान बचाने के लिए निकलकर कैलाश गुप्ता के मकान की तरफ भागे वहां कमरे में घुस कर पीछे से दोनों दौड़ते हुए कैलाश गुप्ता के कमरे में आकर बांके से गर्दन पर हमला कर उनकी हत्या कर दी ।

इसे भी पढ़े : मोदी मंत्रिमंडल के विस्तार की तैयारी, ज्योतिरादित्य सिंधिया या गणेश सिंह जैसे नए चेहरों को मिल सकती है जगह

मेरा भाई मोहम्मद बिलाल व मोहल्ले के कई लोग दौड़े तो वे दोनों फायरिंग करते हुए चौक की तरफ भागे मेरे पिता की हत्या करने के बाद अब्दुल रउफ पुत्र रज्जाक , अब्दुल्ला पुत्र हाजी कुदूस, मोहम्मद मदनी पुत्र शफी मोहम्मद, मारूफ पुत्र अब्दुल्ल रज्जाक अब्दुल रहमान उर्फ मनसूर पुत्र अब्दुल रज्जाक निवासीगण हसंवर के 7 लोग रंजिश में शामिल थे।

जिनके खिलाफ हंसवर थाने में 302,120B के तहत मामला पंजीकृत हुआ कुछ आरोपियों को अब तक हसंवर पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पाई है। पीड़ित दर-दर भटकने को मजबूर है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बहनोई तैयब बेग को अकबरपुर से हंसवर पुलिस थाने ले आई 3 दिन उनको थाने में रखा गया। वही जब इस संदर्भ में थानाध्यक्ष प्रदीप सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया फारुख के लिए हम लोग काफी परेशान हैं उसको ढूंढने के लिए हमारी पुलिस टीम और एसओजी टीम लगी हुई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार हंसकर पुलिस के हाथ चढ़ा फारुक के बहनोई सरवर कोतवाली टांडा अंतर्गत बलिया जगदीशपुर का निवासी बताया जा रहा है पुलिस ने देर से ही सही लेकिन अपने कदम अपराधी के खिलाफ उठाया वही हबीबुर्रहमान हत्याकांड का मामला पुलिस के लिए बन चुका है परेशानी का सबब।

विकास कुमार निषाद की रिपोर्ट

Leave a Reply