Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

अलीगढ़! निर्वाचन विभाग सभी पदों पर एक साथ चुनाव कराने की तैयारी में है। इसी के हिसाब से बूथ तय किए गए है। हालांकि, अभी इसको लेकर कोई लिखित में आदेश नहीं आया है। फिलहाल प्रशासन का जोर गुणवत्ता परख मतदाता सूची तैयार करने पर है। पंचायत चुनाव को लेकर प्रशासन की तैयारियां जोरों पर चल रहा है। इस बार सभी पदों पर एक साथ चुनाव कराने की तैयारी चल रही है।

इस बार बूथों पर मतदाताओं की संख्या कम कर दी गई है। पिछले बार जहां एक हजार वोट पर एक बूथ बनाया गया था, वहीं इस बार 800 वोटों पर एक बूथ बनाया जा रहा है। ऐसे में अनुमान है कि ग्राम पंचायत सदस्य, ग्राम प्रधान, क्षेत्र पंचायत सदस्य और जिला पंचायत सदस्य के चार पदों पर मतदान एक साथ होगा।

इसे भी पढ़े : दो घंटे की आतिशबाजी वाले आदेश पर नाराज

फिलहाल मतदाता सूची पुनरीक्षण का कार्य तेजी से चल रहा है। बीएलओ से सत्यापित सूची कंप्यूटर पर दर्ज की जा रही है। 2015 में अंतिम बार त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव हुए थे। दो बार यह चुनाव संपन्न कराए गए थे। इसमें पहली बार जिला पंचायत सदस्य व बीडीसी का चुनाव हुआ था। वहीं, दूसरी बार में प्रधान व पंचायत सदस्य के वोट पड़े थे। ऐसे में करीब तीन से चार महीने इस पूरी प्रक्रिया में लग गए थे।

इस बार कोरोना के चलते इन चुनावों में देरी हो रही है। ऐसे में निर्वाचन विभाग एक साथ सभी पदों पर चुनाव कराने की तैयारी कर रहा है। पंचायत चुनाव के लिए प्रशासन ने बूथ तय कर दिए है। इस बार इनकी संख्या में बड़ा बदलाव हुआ है। पिछले बार जहां एक हजार वोट पर एक बूथ बना था, वहीं इस बार 800 वोट पर बूथ बनाया गया है। ऐसे में जिले में बूथों की संख्या में काफी बढ़ोत्तरी हुई है। हालांकि, 28 ग्राम पंचायतों के नगरीय निकाय में तब्दील होने से मतदाताओं की संख्या जरूर कम हुई है।

Leave a Reply