Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644
व्यापारियों का कहना लगना चाहिए मेला ,प्रशासन ने दिखाया कोरोना का डर

उज्जैन। हर वर्ष दीपावली के बाद कार्तिक मेला ग्राउंड पर मेले का आयोजन किया जाता है! इस मेले में झूले से लेकर सर्कस तक आते हैं !इसके साथ ही मेले में ग्रामीण और शहरी क्षेत्र से आने वाले लोग गराडू का भी आनंद लेते हैं! इस मेले में सबसे अधिक जलेबी और गराडू का विक्रय होता है !इसके साथ ही कटलरी का सामान भी यहां पर बिकने के लिए आता है!

नगर निगम द्वारा आयोजित इस मेले में दुकानों का भी आवंटन किया जाता है, लेकिन इस बार कोरोना की मार के चलते प्रशासन कार्तिक मेला आयोजित करवाने में असहाय दिख रहा है! तो वहीं दूसरी ओर व्यापारियों का कहना है कि शहर से कोरोना  भाग चुका है! जब दीपावली पर बाजारों में भीड़ उमड़ रही है ,तो फिर कार्तिक मेला क्यों नहीं लगाया जा सकता है! दीपावली पर्व के पहले बाजारों में ना तो सोशल डिस्टेंस का पालन हो रहा है और ना ही लोग मास्क लगाकर घूम रहे हैं!

इसे भी पढ़े : बेटे की शादी के लिए छुट्टी मंजूर नही करने के मामले में पुलिस के उच्चाधिकारियों की हठधर्मिता ने ले ली एक थानाधिकारी की जान

इस संबंध में मनोज कुमार चौरसिया ने चर्चा में बताया कि जब महाकाल मंदिर के दर्शन खोल दिए गए हैं कोराना के कारण दो माह तक मंदिर के पट बंद रहे भक्तों को भगवान से दूर रखा गया कोराना की मार के कारण वैसे ही व्यापार व्यवसाय कब पड़ा हुआ है यदि प्रशासन कार्तिक मेला आयोजित करने का निर्णय लेता है तो यह व्यापारियों के पक्ष में रहेगा। यदि इस बार कार्तिक मेला आयोजित नहीं होता है तो नगर निगम को 50 लाख का आर्थिक नुकसान होगा।

Leave a Reply