Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644
कुत्तों का एक गली से दूसरे मोहल्ले में ट्रांसफर होना बंद हो
नगर निगम चलाए आवारा कुत्तों का नसबंदी अभियान

उज्जैन। शहर की दूसरे नंबर की सबसे बड़ी कॉलोनी आगर रोड़ स्थित इंदिरा नगर में आवारा कुत्तों का आतंक बना हुआ है। यहां कई लोग इन आवारा कुत्तों का शिकार हो रहे हैं। इंदिरा नगर युवा विकास समिति के अध्यक्ष मंगेश श्रीवास्तव ने बताया कि इंदिरा नगर 90 क्वार्टर, 40 क्वाटर एवं इंदिरा नगर चौराहे पर आवारा कुत्तों का आतंक इस कदर बढ़ गया है कि आम लोगों एवं बच्चों का रात में निकलना दुस्वार हो गया है।

इन कुत्तों द्वारा बाहर खड़ी गाड़ियों के हजारों रूपये के कवर, तार काट देना रोज की बात हो गई है। कई कुत्ते बीमारी फैला रहे हैं, कई कुत्तों के सर पर जख्म हैं इन कीड़ों के कारण शहर में महामारी फैलने का भी डर बना हुआ है। किसी के सिर पर कीड़े निकल रहे हैं। क्षेत्रीय नागरिकों द्वारा नगर निगम व जमादार से शिकायत करने के बाद भी आज तक कोई ठोस कार्यवाही नहीं हुई।

इंदिरा नगर युवा विकास समिति के अध्यक्ष मंगेश श्रीवास्तव ने नगर निगम कमिश्नर को पत्र लिखकर यह मांग की है कि आवारा कुत्तों का आतंक इंदिरा नगर में जल्द से जल्द खत्म हो, इसके लिए प्रयास करें। आवारा कुत्तों को पकड़ने वाली गाड़ी के कर्मचारियों को भी उनकी भूमिका तय की जाये ताकि वह इस मोहल्ले से पकड़े गये आवारा कुत्तों को दूसरे मोहल्ले में छोड़कर अपने कर्तव्य की इतिश्री न कर लें।

अक्सर देखने में आता है कि कुत्ते पकड़ने वाली गाड़ी हमेशा कुत्ते पकड़कर दूसरे मोहल्लों में छोड़ देती है, जिस कारण शहर की कॉलोनियों, मोहल्लों में यह समस्या हल नहीं होती, केवल कुत्तों का आतंक एक मोहल्ले से दूसरे मोहल्ले में ट्रांसफर होता है। नगर निगम कमिश्नर से मांग की है कि कुत्तों के खिलाफ अभियान चलाकर उनकी नसबंदी की जाए ताकि शहर में आवारा कुत्तों का आतंक समाप्त हो सके।

Leave a Reply