Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

उज्जैन। शिप्रा शुद्धिकरण के लिए कई जतन जनप्रतिनिधियों और सामाजिक संगठनों ने किए है !लेकिन महाकाल आपकी शिप्रा मैली हो गई पापियों के पाप धोते-धोते! आखिरकार शिप्रा नदी में जलकुंभी सहित गंदगी पड़ी रहती है बाहर से आने वाले श्रद्धालु इस गंदगी में ही दान पुण्य और स्नान करते हैं ! शिप्रा का पानी इतना अधिक मेला हो गया है कि जिसके कारण श्रद्धालुओं को स्नान के बाद चर्म रोग की भी शिकायत होने लगी है !

इसे भी पढ़े : अर्णव डिसेंबर के अंत तक जेल से बाहर न आये इसका उद्धव और नबाब मलिक की पुलिस पूरा प्रबंध कर चुकी है

ओखलेश्वर घाट पर शिप्रा नदी में गंदगी का आलम बना हुआ है !नगर निगम राम घाट पर तो साफ सफाई करती है, परंतु यह साफ सफाई भी नाम मात्र की होती है !इसके अलावा अन्य घाटों पर नगर निगम सफाई व्यवस्था पर ध्यान नहीं देती है !जबकि शिप्रा को शुद्ध करने के लिए नगर निगम प्रयास कर रही है लेकिन आधे अधूरे मन से यह प्रयास भी नाकाम साबित होते हैं!

ऐसा नहीं है कि शिप्रा शुद्धिकरण के लिए कई जनप्रतिनिधि और सामाजिक संगठनों ने काम नहीं किया हो परंतु इसके बावजूद भी शिप्रा मेली  रहती है इसके लिए कोई ठोस कदम उठाना पड़ेंगे ताकि आने वाले बाहर से श्रद्धालु सहित स्थानीय नागरिक वार त्यौहार पर शुद्ध जल में स्नान कर सकें।

Leave a Reply