Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

नशे में धुत पुलिसकर्मी ने अपने मकान मालकिन की डेढ़ साल की बेटी की पिटाई की और सिगरेट से जला दिया।

बच्ची की मां उसे जख्मी हालत में लेकर बालोद थाने पहुंची

रात में बच्ची को मेरे को पापा बोलने के लिए दबाव डालने लगा

पापा नहीं बोला तो गंदी गाली देते हुए बच्ची का चेहरा, पेट, पीठ और हाथ को सिगरेट से जला दिया।

बेरहम पुलिसकर्मी को बर्खास्त कर दिया

छत्तीसगढ़ के बालोद में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया ” रक्षक ही भक्षक” बन गए ।

एक पुलिस वाले जो आज आमजन की रक्षा करते हैं वही एक मासूम बच्ची को इतनी बेरहमी से मारा वह उसे पूरे शरीर में जलती हुई सिगरेट से पूरे शरीर में दाग दिया ।

बालोद । शराब के नशे में डेढ़ साल की मासूम को सिगरेट से दागने वाले बेरहम पुलिसकर्मी पर बड़ी कार्यवाही हुई है। तत्काल मामले का संज्ञान लेते हुए डीजीपी डीएम अवस्थी ने बेरहम पुलिसकर्मी को बर्खास्त कर दिया। वही, आईजी विवेकानंद सिन्हा ने आरोपी को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया है।

बता दे कि आरोपी पुलिसकर्मी का नाम अविनाश राय है, जो बालोद के रक्षित केंद्र में पदस्थ है। बालोद के सिवनी में नशे में धुत पुलिसकर्मी ने अपने मकान मालकिन की डेढ़ साल की बेटी की पिटाई की और सिगरेट से जला दिया। ऐसा इसलिए क्योंकि वह उसको पापा नहीं कह रही थी। बच्ची की मां उसे जख्मी हालत में लेकर बालोद थाने पहुंची और आरोपी पुलिस कर्मी अविनाश राय के खिलाफ मामला दर्ज कराया।

इसे भी पढ़े : मन्नत गार्डन को किया जा रहा जमीदोज

बच्ची की मां ने बताया कि दुर्ग रक्षित केंद्र में तबादला से पहले रक्षित केन्द्र बालोद में पदस्थापना के दौरान आरक्षक अविनाश राय मेरे मकान में किराए से रहा करता था। उसने उधारी दे रखी थी, जिसकी वसूली के लिए वह 24 अक्टूबर को मेरे घर में आकर रुका हुआ था।

29 अक्टूबर को रात में बच्ची को मेरे को पापा बोलने के लिए दबाव डालने लगा। बच्ची ने जब पापा नहीं बोला तो गंदी गाली देते हुए बच्ची का चेहरा, पेट, पीठ और हाथ को सिगरेट से जला दिया। आरोपी को समझाने की कोशिश की पर वह उसी को गाली देते हुए मारपीट करने लगा। मारपीट की वजह से उसके भी शरीर में भुजा, पीठ, घुटना में चोट है। वही, घटना को आस-पास के लोगों ने देखा और सुना है। मामले की रिपोर्ट दर्ज कराते हुए जांच कर कार्रवाई की मांग की थी।

Leave a Reply