Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

 

फ्रांस विरोध की आग भारत तक पहुंची

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने यूपी में फ्रांस के खिलाफ प्रदर्शन पर सख्त कदम उठाए

मुस्लिम देशों द्वारा लगाई गई फ्रांस विरोध की आग अब भारत भी पहुंच गई है। देश के कई शहरों में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। लेकिन उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ऐसे प्रदर्शनों के खिलाफ सख्त है।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने साफ कर दिया है कि ऐसे प्रदर्शन बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे। उत्तर प्रदेश सरकार ने ऐसे प्रदर्शनों के खिलाफ सख्त रुख अपनाते हुए डीजीपी कार्यालय की तरफ से अलर्ट जारी किया है। हिंसा और उपद्रव करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। साथ ही संवेदनशील जिलों में पेट्रोलिंग बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। सरकार पश्चिमी उत्तर प्रदेश पर खास नजर रखे हुए हैं।

भोपाल में प्रदर्शन पर केस

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) में भी प्रदर्शन हुए। यहां कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद (Congress MLA Arif Masood) के नेतृत्व में बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर उतरे और फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ नारे लगाये। पुलिस ने शांति भंग करने और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों के उल्लंघन का मामला दर्ज कर लिया है। वहीं, भाजपा ने कांग्रेस से कट्टरपंथ पर अपनी स्थिति साफ करने की मांग की है।

मुंबई में सड़क पर पोस्टर चिपकाए


फ्रांस के खिलाफ मुंबई में भी प्रदर्शन हुए। यहां के भिवंडी में कट्टरपंथी संगठनों ने फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों के पोस्टर सड़क पर चिपका दियेे। ऐसे में लोगों के पास उन पोस्टरों के ऊपर से गुजरने के अलावा कोई चारा नहीं था। पुलिस को जैसे ही इसकी सूचना मिली वह तुरंत मौके पर पहुंची और सभी पोस्टरों को हटाया। मालूम हो कि पैगंबर मोहम्मद के कार्टून और फ्रांस के राष्ट्रपति के आतंकवाद को इस्लाम से जोड़ने संबंधी बयान के खिलाफ कई मुस्लिम देश मोर्चा खोले हुए हैं। फ्रेंच उत्पादों के बहिष्कार का अभियान भी चलाया जा रहा है।

भाजपा का सवाल, अपमान क्यों??


भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने मुंबई की सड़कों पर मैक्रों के पोस्टर चिपकाने को लेकर महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है, महाराष्ट्र सरकार ये क्या हो रहा है? भारत आज फ्रांस के साथ खड़ा है. जो जिहाद फ्रांस में हो रहा है, उस आतंकवाद के खिलाफ हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री ने फ्रांस के साथ मिलकर लड़ने की प्रतिज्ञा की है. फिर मुंबई की सड़कों पर फ्रांस के राष्ट्राध्यक्ष का अपमान क्यों ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: