Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

उज्जैन। बच्ची को जन्म देने के बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र घट्टिया में शासकीय सेवा में कार्यरत माया जिंदल की मौत के बाद से अपने अधिकार के लिए संघर्ष कर रहे उसके पति धनेश ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर इच्छा मृत्यु की मांग की है। धनेश ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. महावीर खंडेलवाल को कई आवेदन, शपथ पत्र, मुख्यमंत्री हेल्पलाईन में शिकायत की लेकिन अब तक उसे तथा उसकी दूधमुंही बच्ची को न्याय नहीं मिला है।

इसे भी पढ़े : निगम ने किया आनंद नगर के बीस से अधिक परिवारों को बेघर


धनेश जिंदल ने बताया कि आरटीआई से जानकारी निकाली तो पता चला कि पत्नी माया जिंदल के निधन के बाद उसकी सर्विस पुस्तिका एवं रिकार्ड में छेड़छाड़ की गई और मेरा नाम हटाकर किसी अज्ञात आदमी पंकजसिंह का नाम जोड़ दिया गया जबकि पंकजसिंह से हमारे परिवार का कोई लेना देना नहीं है, केवल मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी महावीर खंडेलवाल ने धोखाधड़ी करते हुए अनुकंपा नियुक्ति किसी ओर को देने के उद्देश्य से यह षड़यंत्र रचा है।

धनेश ने बताया कि माया जिंदल ने नामनी में मेरा नाम चढ़ाया था फैमिली आईडी में भी मेरा नाम एवं मोबाईल नंबर चढ़ाया था। वहीं संविधान की धज्जियां उड़ाते हुए माया के बाद उसकी पुत्री या मुझे मिलने वाली राशि ढाई लाख गलत व्यक्ति को दे दी गई जबकि 10 जुलाई 2020 को यह राशि मेरे नाम पर स्वीकृत की गई थी। इस मामले में एसपी, कलेक्टर को शिकायत की गई लेकिन कोई कार्रवाई अब तक नहीं हुई है, ऐसे में परेशान धनेश जिंदल ने इच्छा मृत्यु की मांग की है।

Leave a Reply