Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

इंदौर जिला जेल में एक हाईप्रोफाइल महिला कैदी के पास सैनिटरी पैड में मोबाइल फोन मिला। ये मोबाइल उसे एक महिला प्रहरी ने लाकर दिया था। जेल की महिला अफसर के औचक निरीक्षण में इस बात का खुलासा हुआ। मोबाइल देने वाली प्रहरी को उसके पिता के निधन के बाद अनुकंपा नियुक्ति मिली है। वह 7 माह से यहां पदस्थ है। लेडी ठग पायल सैमुअल उर्फ हसीना ने मोबाइल के बदले प्रहरी के खाते में रुपए भी ट्रांसफर कराए थे। ठग हसीना अपनी फर्राटेदार अंग्रेजी से प्रभावित कर 7 बिजनेसमैन से करोड़ों की ठगी कर चुकी है।

इंदौर जिला जेल में आने से पहले पायल के वकील ने जेलर और अधिकारियों से कहा था कि उसे बोतल बंद पानी दिया जाए। इसके बाद बीमारी का बहाना बताकर ओट्स और दूध की डिमांड की गई। हसीना जेल में ओट्स-ब्रेड ही खाती है। बहुचर्चित भय्यू महाराज सुसाइड केस में बंद पलक से भी भिड़ चुकी है। बता दें, दिल्ली की तिहाड़ जेल से हसीना को जमानत मिल गई थी। इसके बाद इंदौर पुलिस ने उसे फिर से गिरफ्तार कर लिया। पहले उसे वारंट पर इंदौर लाया गया। दिल्ली पुलिस को बताया ’50’ लकी नंबर

हसीना 50 नंबर को लकी मानती है। उसने देशभर में जितनी भी जालसाजी की वारदात को अंजाम दिया, डील में 50 जरूर आया है। 50 लाख, 50 सामग्री, 50 करोड़ उसकी डील में जरूर होते हैं। उसने दिल्ली क्राइम ब्रांच की पूछताछ में 50 को लकी बताया था.

Leave a Reply

You missed

%d bloggers like this: