Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

मिलती जुलती इमेज


नई दिल्ली


हमारे देश की सरकार भी स्कूल खोलने को लेकर विचार-विमर्श कर रही है इस संदर्भ में राज्य सरकार को निर्देशित कर विद्यार्थियों के माता-पिता से उनके विचार जानने के बाद ही निर्णय लेने की बात कही है ।


स्कूल खोलने के संदर्भ में जल्दबाजी कहीं न कहीं हमारे देश को गर्त में नहीं धकेल दे इस संदर्भ में दुसरे देशों के निर्णय के पश्चात वहां की संक्रमित संख्या को देखने के बाद ही निर्णय लेना उचित होगा । हमारी इस मामले में जल्दबाजी मृत्यु दर के आंकड़ों में इजाफा नहीं कर दें । देश के नोनिहाल बच्चै एक वर्ष अध्ययन नहीं करने पर कोई विशेष इफेक्ट नहीं होगा जितना कि उनकी जिंदगी से खिलवाड़ का निर्णय ….


अमेरिका में स्कूलों के फिर खुलने से बच्चों में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ गए हैं। अमेरिकन अकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स की जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि स्कूली बच्चों में संक्रमण के मामले 10 फीसदी बढ़ गए हैं।


अनलॉक के पांचवें चरण के गाइडलाइन्स में स्कूलों और कोचिंग संस्थानों को दोबारा खोलने के लिए राज्य सरकारों को 15 अक्टूबर के बाद फैसला लेने को कहा गया है। इसके लिए माता-पिता की सहमति की आवश्यकता होगी।


रिपोर्ट चिंता बढ़ाने वाली


हालांकि अमेरिका की एक रिपोर्ट चिंता बढ़ाने वाली है। अमेरिका में स्कूलों के फिर खुलने से बच्चों में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ गए हैं। अमेरिकन अकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स की मंगलवार को जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि स्कूली बच्चों में संक्रमण के मामले 10 फीसदी बढ़ गए हैं।


संक्रमित मामलों का ग्राफ बढ़ा


रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र ने सोमवार को कहा कि स्कूल खुलते ही यानी सितंबर की शुरुआत में ही कोरोना मामलों का ग्राफ बढ़ा है। सीडीसी रिपोर्ट में कहा गया है कि छोटे बच्चों की तुलना में लगभग दोगुना अधिक किशोर संक्रमित थे। अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स के अध्यक्ष डॉ सैली गोजा ने कहा कि बच्चों के बीच संक्रमण की बढ़ती दर बड़ी चिंता का विषय है, जो मास्क, हाथ धोने, शारीरिक दूरी जैसी अन्य सावधानियों के महत्व को रेखांकित करती है।


क्या कहते स्वास्थय विशेषज्ञ


स्वास्थ्य विशेषज्ञ लीना वेन ने कहा कि जिस तरह से कॉलेज के छात्र पार्टी से कोरोना की चपेट में आ सकते हैं, उसी तरह स्कूली बच्चे भी खेलकूद और अन्य गतिविधियों के दौरान वायरस का शिकार हो सकते हैं, जहां सावधानी नहीं बरती जा रही है।


भारत में कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी के साथ इजाफा हुआ है उसके बावजूद सरकार ने यह सुनिश्चित किया था कि कुछ और रियायतें दी जाएंगी। इससे पहले, अनलॉक 4.0 के दौरान केन्द्र सरकार ने मेट्रो सेवाएं समेत कई गतिविधियों को दोबारा शुरू करने की इजाजत दी थी, जिन्हें मार्च के बाद से ही बंद रखा गया था। इसके साथ ही, 21 सितंबर से स्कूल और कॉलेजों को भी आंशिक तौर पर खोलने की इजाजत दी गई थी।


हमारे देश में मिली अनुमति क्या कारगर साबित होगी


15 अक्टूबर से 50 फीसदी क्षमता के साथ खुल सकेंगे सिनेमा हॉल
केंद्र सरकार ने बुधवार को अनलॉक 5 के लिए गाइडलाइंस जारी कर दीं। इन गाइडलाइन्स में सरकार ने सिनेमा हॉल, एंटरटेनमेंट पार्क, स्विमिंग पूल, स्कूल, कोचिंग इंस्टीट्यूट आदि के बारे में जानकारी दी है। केंद्र ने 15 अक्टूबर के बाद से कईयों को दोबारा खोलने की इजाजत दे दी है। हालांकि, कुछ विशेष शर्तों का पालन करना होगा।


केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से जारी गाइडलाइन्स में बताया गया है कि 15 अक्टूबर के बाद सिनेमा हॉल, एंटरटेनमेंट पार्क, स्विमिंग पूल को खोलने की अनुमति होगी। हालांकि, सिनेमा हॉल में पहले के दर्शकों की तुलना में आधे दर्शक ही फिल्म का लुत्फ उठा सकेंगे। मंत्रालय ने 50 फीसदी क्षमता के साथ सिनेमाघरों को दोबारा घोलने की अनुमति दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *