Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644
इलाके में फैला मुखबिरों का जाल


अजय सिंह ब्यूरो चीफ सीतापुर के साथपवन कुमार सिंह


सीतापुर। सरकार के कार्यों पर खरा उतरने की आबकारी विभाग भी पूरी तरीके से कोशिश करने में लगा हुआ है।शासन के कड़े कानूनों का अवैध शराब तस्करों को अपनी ताबड़तोड़ कार्यवाहीयों से सीतापुर का आबकारी महकमा अहसास करा रहा हैं जिससे शराब तस्करों के हौसले पस्त हो चुके हैं।

ऐसा करने में अपनी अलग पहचान बना रहे आबकारी निरीक्षक बिसवां अरूण कुमार जिनका सीधा संकेत है कि किसी भी तरीके से नकली/ अवैध शराब या फिर मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले लोगों पर उनकी नजर तिरछी हो चुकी है और उन्होंने स्पष्ट तौर पर बताया कि इस मामले में उन्होंने पहल कर दी है और क्षेत्र में संकेत मिलना शुरू हो चुके हैं।इस बात की पुख्ता जानकारी इकट्ठा की जा रही है कि कहां पर किस एरिया में इस तरीके से अवैध व्यापार मादक पदार्थों का चल रहा है। जिसमें शराब व्यापार को लेकर जो अवैध शराब बनाने का कारोबार कर रहे उनके ऊपर विशेष निगाहें हैं और किसी भी हालात में उन को बख्शा नहीं जाएगा क्योंकि जानकारियां इकट्ठा कर जा रही हैं और मुखबिरों का जाल फैला हुआ है।

जहां से भी सटीक जानकारी आएगी वहां पर तत्काल ही छापेमारी कर कार्यवाही की जाएगी जिससे कि इस तरीके के व्यापार करने वाले अवैध व्यवसायियों को यह सबक मिल सके कि किसी भी तरीके से उनका अवैध व्यापार चलने नहीं दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि शराब की तस्करी करने वाले काफी संख्या में हैं इसकी सूचनाएं इकट्ठा हो रही है हालांकि इसके पूर्व में उन्होंने कई जगहों पर छापेमारी कर कार्यवाही की गई है ।

उनकी टीम के सदस्य समय-समय पर उनके साथ कार्यवाही करते रहे है लेकिन उसके बावजूद भी व्यापार का काम अभी चलता हुआ नजर आ रहा है।लेकिन इस विषय में अब मुखबिरों को और एक्टिव कर दिया गया जिससे की सूचना मिलते ही वह तत्काल मुझसे संपर्क करें और इस विषय में अगर किसी और भी सम्मानित नागरिक को जानकारी मिलती है, तो वह भी उनसे कार्यालय में संपर्क कर जानकारी दे सकता है और उसकी जानकारी गोपनीय रखी जाएगी बताते चलें कि अवैध शराब व्यापार पर आबकारी विभाग की नज़रें गड़ चुकी हैं।

लेकिन कुछ स्थान आज भी ऐसे दिखाई पड़ रहे हैं जो यह शराब का कारोबार करने वाले अंदर ही अंदर काम कर रहे हैं हालांकि क्षेत्र काफी बड़ा है लेकिन जिस वजह से काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है इस वजह से ही उन्होंने बताया कि मुखबिर का सहारा लिया जा रहा है। क्योंकि कई ऐसी जगह है जहां पर यह अवैध व्यापार चल रहा था वहां से बिल्कुल नस्त नाबूत किया जा चुका है। जिससे उन्होंने चेतावनी जारी करते हुए कहा कि अगर इस प्रकार से जानकारी मिल गई तो अपराधी को तत्काल ही सलाखों के पीछे कर दिया जाएगा और गंभीर धाराओं में जेल भेज दिया जाएगा हालांकि इस चेतावनी का काफी खासा असर भी दिखेगा ।

क्योंकि जिस तरीके से आबकारी विभाग ने कार्यवाही या की है उससे यह बिल्कुल तय माना जा रहा है कि जैसे ही कोई सटीक जानकारी मिलेगी तो कार्यवाही की जाएगी फिलहाल आबकारी निरीक्षक बिसवां अरूण कुमार से जब उनके अगले टारगेट के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि कार्रवाई होने के बाद ही बताया जाएगा कि आखिर कार्रवाई कहां और कब होगी इसकी सूचना आपको दे दी जाएगी लेकिन जिस तरीके से आबकारी अधिकारी की कोशिश है उससे ऐसा लग रहा है कि क्षेत्र में अवैध शराब कारोबारियों में दहशत का माहौल बना हुआ है यह जनपद में आबकारी महकमें को बेहतर छवि बनाने का कार्य है जिससे जनहित में अवैध शराब व्यापार पर डर उत्पन्न होगा साथ ही लोग इसकी काफी सराहना भी कर रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *