Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644
एक युवती व एक व्यक्ति के कारण आत्महत्या की
उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

उज्जैन।10 वीं के छात्र ने अपने व्हाट्सएप स्टेटस पर श्मशान में जलती चिताओं का वीडियो, सल्फास के पाउच का फोटो डालकर अंत में बाय बाय जिंदगी का मैसेज लिखा और सल्फास खाकर आत्महत्या कर ली। इस समय छात्र की विधवा मां उसके लिये खाना बना रही थी। तबियत बिगड़ते ही उसे जिला चिकित्सालय लाया गया जहां छात्र ने युवती व एक व्यक्ति के कारण आत्महत्या करने की बात अपनी मां से कही और उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

रोशन पिता रामचंद्र बैरागी निवासी दयानंद कॉलोनी नागदा 10वीं का छात्र था और अपनी विधवा मां का इकलौता पुत्र था। उसने अपने मोबाइल के व्हाट्सएप स्टेटस पर श्मशान में जलती चिताओं का डरावना स्टेटस डाला। दूसरा स्टेटस सल्फास के पाउच का था और तीसरे स्टेटस पर बाय बाय जिंदगी, सॉरी माय फ्रेंड्स एण्ड बाय बाय लिखा था। इस समय रोशन की विधवा मां शोभा घर में उसके लिये खाना बना रही थी। शोभा कुछ सामान लेने घर के बाहर गई उसी दौरान रोशन के दोस्तों ने उसका स्टेटस देखा तो शोभा को फोन पर इसकी सूचना दी। शोभा बाजार से तुरंत घर लौटी तो देखा रोशन की तबियत खराब थी। वह बेटे को लेकर अस्पताल पहुंची जहां से हालत गंभीर होने पर उसे जिला चिकित्सालय रैफर किया गया यहां उपचार के दौरान रोशन की मृत्यु हो गई।

मां को बताया राजेश और अर्चना की वजह से टेंशन था


रोशन की मां शोभा ने बताया कि उसके पति की एक वर्ष पहले मृत्यु हो चुकी है, वह स्वयं घरों में झाडू पोंछे का काम कर बेटे के साथ जीवन यापन करती हैं। शोभा के अनुसार रोशन को जब एम्बुलेंस से उज्जैन ला रहे थे तो उसने बताया था कि राजेश निवासी उमरनी और उसकी भतीजी अर्चना की वजह से टेंशन है और इसी कारण जहर खाया है। रोशन ने कुछ दिनों पहले राजेश की मोटर सायकल भी खरीदी थी।

Leave a Reply