Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644
इन मिनी बसों का इस्‍तेमाल दिव्‍यांग स्‍कूली बच्‍चों और नगर निगम स्‍कूल के बच्‍चों को घरों से स्‍कूलों में लाने और वापस उनके घरों तक पहुंचाने के लिये किया जायेगा 
•  लैंक्‍सेस इंडिया ने नागदा में वर्ष 2019-2020 में अपनी सीएसआर पहलों पर 1.60 करोड़ रूपये से अधिक खर्च किये हैं •
कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में शहर सहयोग बढ़ाया 


नागदा – विशिष्‍ट केमिकल्‍स कंपनी लैंक्‍सेस ने आज नागदा के सरकारी स्‍कूल के बच्‍चों और दिव्‍यांग बच्चों को घरों से स्‍कूल और वापस उनके घरों तक पहुंचाने में मदद करने के लिये मिनी बसें दान की। इन मिनी बसों को सामाजिक दूरी के सभी नियमों को ध्‍यान में रखते हुये एक प्रतीकात्‍मक रूप से उनके लाभार्थियों को सौंपा गया। 


कंपनी ने अपनी कॉर्पोरेट सामाजिक जिम्‍मेदारी परियोजनाओं के अंतर्गत इन मिनी बसों को दान किया है। गौरतलब है कि कंपनी ने वर्ष 2019-2020 में अपनी पांच परियोजनाओं को लागू किया और इस पूरे साल के दौरान 1.6 करोड़ रूपये से भी अधिक खर्च किये।


लैंक्‍सेस से दिव्‍यांग और नगर निगम के बच्‍चों के लिये बेहतर ट्रांसपोर्ट की सुविधा उपलब्‍ध कराने में मदद करने का अनुरोध किया गया था। यातायात के आरामदायक और किफायती साधनों के अभाव में इन बच्‍चों को स्‍कूल आने में काफी मुश्किलें आ रही थीं। कंपनी ने उनकी इस जरूरत को समझा और स्‍नेह फाउंडेशन एवं शासकीय कन्‍या शाला को दो मिनी बसें दान कर उनकी मदद की। 


कंपनी की अन्‍य चार परियोजनाओं में शामिल हैं –

नागदा सिविल हॉस्पिटल में 5 बेड वाली अत्‍याधुनिक इंटेंसिव कोरोनरी केयर यूनिट (आइसीसीयू) स्‍थापित करना, दुर्गापुरा और मेहतवास में सोलर स्‍ट्रीट लाइट्स लगवाना, तकरावड़ा और भिकमपुर में ड्रिंकिंग वॉटर स्‍टोरेज लगवाना, चम्‍बल नदी के किनारों को हरा-भरा करना, ताकि भूजल स्‍तरों को बढ़ाया जा सके।

इसे भी पढ़े : जानिये आज का कोराना बुलेटिन दिनांक 31/08/2020

लैंक्‍सेस ने मौजूदा कोविड-19 स्थिति का भी ध्‍यान रखा और महामारी से लड़ने में स्‍थानीय एवं राष्‍ट्रीय स्‍तर पर लोगों की मदद करने के लिये कदम आगे बढ़ाया। इसने नागदा में स्‍थानीय प्रशासनों को 10 लाख रूपये की राहत सामग्रियां दान की। इनमें फेस मास्‍क, डिसइंफेक्‍टेंट्स, हैंड सैनिटाइजर्स, लिक्विड सोप इत्‍यादि शामिल थे। मौजूदा साल 2020-2021 के लिये कंपनी प्राइम मिनिस्‍टर्स सिटिजन असिस्‍टेंस एंड रिलीफ इमरजेंसी सिचुएशंस फंड (पीएम केयर्स फंड) में कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में पहले ही 2 करोड़ रूपये का योगदान कर चुकी है। इसके अलावा लैंक्‍सेस ने गुजरात के झागड़िया और महाराष्‍ट्र के ठाणे में भी राहत सामग्रियां उपलब्‍ध कराकर मदद की है। इसने जरूरतमंद लोगों को 30,000 से अधिक भोजन के पैकेट्स मुफ्त में उपलब्‍ध कराने के लिये अक्षय पात्र फाउंडेशन के साथ भी सहयोग किया है। 


नीलांजना बनर्जी, वाइस चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्‍टर, लैंक्‍सेस इंडिया ने कहा, ”नागदा और अन्‍य क्षेत्रों में लोगों की जरूरतों को पूरा करने की दिशा में उल्‍लेखनीय योगदान कर हमें बहुत अच्‍छा लग रहा है। हम क्षेत्र में एक जिम्‍मेदार कॉर्पोरट नागरिक की हमारी भूमिका निभाते रहेंगे और इसके समग्र विकास के लिये प्रतिबद्ध बने रहेंगे।  

फाइल फोटो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *