Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644
दाह संस्कार करने के लिए करना पड़ता है नाला पार, खुले में करते हैं दाह संस्कार

कैबिनेट मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के क्षेत्र में मुक्तिधाम की स्थिति बद से बदतर लोगों ने की नाराजगी व्यक्त की ।

एक ओर जहां सरकार विकास के दावे कर रही है उसी विकास की एक तस्वीर

राहतगढ़ के ग्राम हुरा परासरी कला से सामने आई , जहां पर एक मात्र श्मशान घाट है वह भी क्षतिग्रस्त हालात में बना हुआ है ना तो दाह संस्कार करने के लिए टीन सेट है और ना ही मुक्ति धाम ,जाने के लिए रास्ता दाह संस्कार के लिए श्मशान घाट तक ले जाने में लोगों को करीब 3 फीट पानी से भरे नाले से गुजरना पड़ता है जहां लोगों को डर लगता है कि कहीं पैर ना फिसल जाए ।

1500 लोगों की आबादी वाले इस गांव में हरि बाई राजपूत उम्र 70 वर्ष का स्वर्गवास हो गया अंतिम संस्कार के लिए शमशान घाट ले जाने के लिए दलदल वाले रास्ते और गंदे नाले में से निकलना पड़ता है और अगर मुसीबत के रास्ते से श्मशान घाट पहुंच ही जाते हैं तो वहां टीन सेट भी नहीं इस प्रकार के मामले राहतगढ़ क्षेत्र में कई बार देखने को मिल चुके है ।

Leave a Reply