Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644
नवजात शिशुओं की मृत्‍यु दर पर रोक लगाकर प्रत्येक बच्‍चे का जीवन करेंगे सुनिश्चित : उपायुक्त
इलाज के लिए अब नही जाना पड़ेगा बाहर, नवजात बच्चे और डायलसिस मरीजों को जिले में मिलेगी बेहतर चिकित्सा सुविधा
बॉर्न केयर यूनिट में लगी रेडिएंट वार्मर मशीन में रखा जाएगा समय पूर्व और कम वजन के जन्मे बच्चे

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट

चतरा (झारखंड) जिले में नवजात बच्चे को बेहतर चिकित्सा सुविधा के अभाव में अब विभिन्न स्थानों में रेफर करने की आवश्यकता नही पड़ेगी। सदर अस्पताल चतरा में नवजात शिशुओं को बेहतर उपचार उपलब्ध कराने के लिए 12 बेबी रेडिएंट वार्मर स्थापित कर रविवार से स्पेशल न्यू बॉर्न केयर यूनिट का शुभारंभ कर दिया गया है। श्रम नियोजन प्रशिक्षण एवं कौशल विकास विभाग झारखंड मंत्री सत्यानंद भोक्ता ने फीता काटकर न्यू बॉर्न केयर यूनिट का शुभारंभ किया। इस मौके पर मंत्री के साथ मुख्य रूप से उपायुक्त दिव्यांशु झा समेत उप विकास आयुक्त सुनील कुमार सिंह, सदर अनुमंडल पदाधिकारी मुमताज अंसारी, सिविल सर्जन डॉ. रंजन सिन्हा मौजूद रहे। यह यूनिट एनएचएम के तहत बच्चों की मृत्यु दर को कम करने के उद्देश्य से स्थापित किया गया हैं। इसे लेकर उपायुक्त ने कहा कि नवजात बच्चे की मृत्यु दर को रोकने के लिए हम सभी कटिबद्ध है।

शिशु मृत्यु दर कम करने के लिए आधुनिक सुविधाएं विकसित की जा रही हैं। न्यू बॉर्न केयर यूनिट (एसएनसीयू) में 12 रेडिएंट वार्मर मशीनें लगाई गई है। जिसमें समय पूर्व और कम वजन के जन्मे बच्चों को रखा जाएगा। वर्तमान में नवजात बच्चों को बीमारी होने पर कई बार विभिन्न स्थानों में रेफर कर दिया जाता था। अब इस तकनीक लगने के बाद रेडिएंट वार्मर अपना काम शुरू कर देगी। स्पेशल न्यू बोर्न केयर यूनिट के अच्छे से संचालन हेतु डॉक्टर एवं नर्स की एक टीम को रिम्स में प्रशिक्षण लेने के लिए भेजा गया है। जहां से प्रशिक्षित होकर यह स्पेशल न्यू बॉर्न केयर यूनिट का संचालन करेंगे। वहीं सदर अस्पताल में रविवार को ही मंत्री एवं उपायुक्त द्वारा संयुक्त रूप से डायलसिस सेंटर का भी शुभारंभ किया गया। डायलिसिस की प्रक्रिया को तब अपनाया जाता है जब किसी व्यक्ति के वृक्क यानि गुर्दे सही तरीके से काम नहीं कर रहे होते हैं।

इसे भी पढ़े : बरेली जिले की छह जर्जर सड़कों में सुधार के लिए मिली स्वीकृति, जानिए कौन सी हैैं ये सड़कें———–

फोटो में : स्पेशल न्यू बॉर्न केयर यूनिट एवं डायलसिस सेंटर का उद्घाटन व निरीक्षण करते मंत्री, उपायुक्त व अन्य

गुर्दे से जुड़े रोगों, लंबे समय से मधुमेह के रोगी, उच्च रक्तचाप जैसी स्थितियों में कई बार डायलसिस की आवश्यकता पड़ती है। स्पेशल न्यू बॉर्न केयर यूनिट एवं डायलसिस सेंटर के शुभारंभ के पश्चात मंत्री एवं मौजूद पदाधिकारियों ने सभी आधुनिक मशीनों का निरीक्षण किया। मौके पर उपस्थित सिविल सर्जन ने मशीनों से संबंधित कई महत्वपूर्ण जानकारी दी। जिलावासियों के लिए यह काफी खुशी की बात है कि दो अत्याधुनिक मशीनों से लैस स्पेशल न्यू बॉर्न केयर यूनिट एवं डायलसिस सेंटर का एक साथ शुभारंभ सदर अस्पताल चतरा में किया गया है। इससे नवजात शिशुओं एवं डायलसिस से जुड़े मरीजों को अब सदर अस्पताल चतरा में हीं सारी सुविधाएं मुहैया होंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *