Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

वाट्सअप ग्रुप पर एक हुए, बनाई स्कूलों के लिए रणनीति

संचार के नवीन माध्यमों से कैसे एकजुट होकर बदलाव लाया जा सकता है। ऐसा ही कुछ बदलाव महेश्वर विकासखंड के शिक्षकों व समाजसेवियों ने प्रगति का डिजीटल माध्यम तैयार किया है। करीब 2 माह पूर्व 100 शिक्षकों व समाजसेवियों ने “सतत् 100 शैक्षिक एवं सामाजिक समुह“ नाम से वाट्सअप ग्रुप बनाया, जिसमें शिक्षा की दिशा में हमेशा आगे बढ़ने और स्कूली बच्चों को प्रेरित करने की दिशा में विस्तृत चर्चा के साथ एक मुकम्मल योजना पर निर्णय लिया जाता है। ग्रुप में चर्चा के साथ-साथ सिर्फ प्रतिमाह प्रति सदस्य को 100 रूपए जमा करने होते है।

बस यहीं जमा पूंजी स्कूलों के लिए वरदान बनने जा रही है। वाट्सअप ग्रुप पर लगातार चर्चा के बाद सभी सदस्यों ने एक मत से विकासखंड की ऐसी प्राथमिक व माध्यमिक विद्यालय, जहां का स्टॉफ लगातार अच्छे परिणाम दे रहा है और विद्यार्थी निरंतर प्रयासों में लगे है, लेकिन डिजीटली और ऑनलाईन पढ़ाई में उपयुक्त साधन नहीं होने से पिछड़ने लगे है।

इसलिए ग्रुप ने स्मार्ट क्लास बनाने की दिशा में पहल की है, ताकि शिक्षा विभाग से जारी की जाने विषय वस्तु और वीडियों गरीब मगर हौनहार विद्यार्थियों को दिखाया जा सके।

इसे भी पढ़े : उज्जैन की भारती ने वाओ मिस इंडिया प्रतियोगिता में हासिल किया बेस्ट टेलेंड का ताज

कोरोना काल में बढ़ा ऑनलाईन शिक्षा का महत्व

सतत् 100 शैक्षिक एवं सामाजिक समुह महेश्वर ने ऐसी 10 प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालयों का चयन करते हुए एलईडी टीवी सौंपे गए। स्मार्ट क्लास के संचालन के लिए 10 स्कूलों को एलईडी टीवी सेट प्रदान करने के लिए एक संक्षिप्त कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अपर सत्र न्यायाधीश श्री भारतसिंह रावत उपस्थित रहे। न्यायाधीश श्री रावत ने कहा कि कोरोना महामारी के दौर में ऑनलाईन शिक्षा का महत्व बढ़ गया है।

इसे भी पढ़े : बीड़ी और घी के डब्बो पर छप रही देवी देवताओं की तस्वीरों को बंद करने की उठी मांग

ऐसे में शासकीय संस्थाएं भी आगे आ रही है। ऑनलाईन शिक्षा की दिशा में किसी ग्रुप द्वारा की गई पहल सराहनीय है। जिला परियोजना समन्वयक ओपी बनडे ने कहा कि शासन ने डिजीलेप के माध्यम से विद्यार्थियों को ऑनलाईन जोड़कर अध्ययन के लिए आगे बढ़ाया। इस दिशा में महेश्वर के शिक्षकों व समाजसेवियों ने जो पहल की है, वास्तव में अनुकरणीय है। इसे जिला स्तर पर भी आगे बढ़ाने का प्रयास करेंगे।

इन 10 स्कूलों को मिले एलईडी टीवी

ग्रुप ने अपने प्रथम प्रयास में पालदा, कोदलाखेड़ी, छोटी खरगोन, नीमसर, मेहताखेड़ी, केरियाखेड़ी और बोरदा की प्राथमिक स्कूल को एलईडीटी प्रदान की है। साथ ही पिटामली, मंडलेश्वर और भवन तलाई की माध्यमिक विद्यालय को भी एलईडी प्रदान की गई। ग्रुप के सदस्य एवं शिक्षक ललित भालसे ने बताया कि पहले चरण में 10 स्कूलों को एलईडी प्रदान किए गए है।

दीपावली बाद मोगावां के प्राथमिक व माध्यमिक विद्यालयों में भी एलईडी की सुविधा प्रदान की जाएगी। ग्रुप में शिक्षक हिम्मतसिंह सिटोले, विनोद पाटीदार एवं संतोष पंवार के प्रयास से ग्रुप सतत् “100 शैक्षिक सामाजिक समुह“ बनाया गया। इसके अलावा अन्य सदस्यों का भी पूर्ण सहयोग प्राप्त हुआ है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *