Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644
You are here
Home > इंडिया > मेला ना लगाने का निर्णय लेते हुए मूर्ति समितियों ने परंपराओं के निर्वहन में मूर्तियां की स्थापित।

मेला ना लगाने का निर्णय लेते हुए मूर्ति समितियों ने परंपराओं के निर्वहन में मूर्तियां की स्थापित।

निर्णय पर कुछ लोगों ने राहत की सांस ली तो वही कुछ लोगो मे मायूसी दिखी

अतरौलिया जिला आजमगढ़। परंपराओं के निर्वहन में कोरोना काल मे स्थापित की गई दुर्गा प्रतिमा।मेला ना लगाने का निर्णय लेते हुए मूर्ति समितियों ने परंपराओं के निर्वहन में मूर्तियां की स्थापित।

विजयदशमी के अवसर पर लगने वाले मेला अतरौलिया में पूर्णिमा के दिन लगता है मगर इस वर्ष मूर्ति समितियों द्वारा मेला ना लगाने का निर्णय लेते हुए सिर्फ मूर्तियां स्थापित कर अपनी परंपराओं का निर्वहन किया ।मूर्ति समितियों द्वारा मेला ना लगाने के निर्णय पर कुछ लोगों ने राहत की सांस ली तो वही कुछ लोगो मे मायूसी दिखी। लोगों ने तर्क दिया कि कोरोना का आज में ही बिहार चुनाव में जनसभा हो सकती है तो ऐसे छोटे-मोटे मेलों का आयोजन भी शासन के दिशा निर्देशों पर किया जा सकता था।

इसे भी पढ़े : एक और लव जिहाद का मामला आया सामने


अतरौलिया में पिछले कई दशकों से विजयदशमी का मेला पूर्णिमा के दिन लगता है मगर इस वर्ष कोरोनावायरस के चलते शासन द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करते हुए मेलाना लगाकर सिर्फ मूर्तियां स्थापित कर अपनी परंपराओं का निर्वहन करते हुए अपने आने वाली पीढ़ियों को मूर्ति समितियों द्वारा एक संदेश देने की कोशिश की गई।


सादगी के साथ खुले स्थानों पर छोटी मूर्तियां स्थापित कर दुर्गा प्रतिमा पूजा की गई। अधिकतर मुख्य रास्तों चौराहों पर स्थापित होने वाली मूर्तियां इस बार स्थापित ही नहीं की गई जो मूर्तियां जो खुले मैदान व मुख्य मार्गो से हटकर रखी जाती थी वही मूर्तियां स्थापित की गई। अतरौलिया कस्बे में लगभग दो दर्जन मूर्तियां स्थापित की जाती थी मगर इस बार मात्र 10 मूर्तियां ही रखी गई है।

अंबेडकर नगर से विकास कुमार निषाद की रिपोर्ट

Leave a Reply

Top