Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

ग्रामीण क्षेत्रों में कर्मचारियों की लापरवाही का खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ रहा।

घंटों की भागदौड़ व माथापच्ची के बाद भी इस बात की गारंटी नहीं रहती कि उनका काम हो भी पाएगा या नहीं।

अंबेडकरनगर। जिले में आधार कार्ड बनवाना व उसमें संशोधन कराना बड़ी चुनौती बन गया है। जिला मुख्यालय से लेकर ग्रामीण क्षेत्र तक प्रतिदिन हजारों आवेदक दर-दर भटकने को विवश हैं। जिला मुख्यालय स्थित प्रधान डाकघर में तकनीकी गड़बड़ी से जब तब काम बाधित होता रहता है तो वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में कर्मचारियों की लापरवाही का खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ रहा। हालत यह है कि देर रात ही घरों से निकलकर अक्सर तमाम आवेदक डाकघर व बैंकों आदि में लाइन लगाने को विवश हो रहे। इसके बाद भी गारंटी नहीं रहती कि उनका काम हो भी पाएगा या नहीं।


छात्रवृत्ति से लेकर विभिन्न प्रकार की योजनाओं का लाभ पाने आदि के लिए जिस आधार कार्ड की जरूरत होती है, उसके लिए नागरिकों को इन दिनों बड़ी मुसीबत से जूझना पड़ रहा है। ज्यादातर मामले आधार कार्ड में संशोधन से जुड़े हैं। मामूली सी गड़बड़ी को ठीक कराना किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं है। कारण यह है कि जिले में जिन जिन डाकघर व बैंकों में आधार कार्ड बनने व संशोधन कराने का काम होता है, वहां कर्मचारियों की मनमानी व सिस्टम की गड़बड़ी आड़े आ रही है।


नतीजा यह कि प्रतिदिन जिला मुख्यालय से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों तक में आवेदक लंबी लाइन लगाने को विवश रहते हैं। घंटों की भागदौड़ व माथापच्ची के बाद भी इस बात की गारंटी नहीं रहती कि उनका काम हो भी पाएगा या नहीं। ऐसेे में प्रतिदिन हजारों आवेदकों को तगड़ी चुनौती का सामना करना पड़ रहा। जिला मुख्यालय स्थित प्रधान डाकघर में आधार कार्ड बनवाना टेढ़ी खीर से कम नहीं है।


आए दिन सिस्टम में तकनीकी गड़बड़ी होने से आधार कार्ड बनवाने के लिए लंबी लाइन में लगे युवक युवतियों को मायूस होकर वापस लौटने को मजबूर होना पड़ रहा है। आधार बनवाने के लिए बार-बार युवक युवतियों को बार डाकघर तक की दौड़ लगाने को मजबूर होना पड़ रहा है। शुक्रवार को एक बार फिर से यहां सिस्टम ने जवाब दे दिया। युवक-युवतियों ने डाकघर प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि लापरवाही के चलते उन्हें विभिन्न प्रकार की मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।


आवेदकों के अनुसार बिजली जाने पर कम्प्यूटर सिस्टम एकाएक बंद हो जाता है, जिसके बाद सिस्टम दोबारा नहीं चल पाता या फिर कुछ देर बाद शुरू होता है। ऐसा लगभग एक माह से हो रहा है, लेकिन तकनीकी गड़बड़ी दूर करने को लेकर जिम्मेदारों को कोई सुध नहीं है। शुक्रवार को भी यह समस्या जारी रही। सुबह से ही आधार कार्ड बनवाने के लिए बड़ी संख्या में युवक युवतियां लाइन में लगे, लेकिन ज्यादातर को मायूस होकर वापस लौटना पड़ा।


नाराज युवक-युवतियों ने जिम्मेदारों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि पांच नवंबर छात्रवृत्ति आवेदन की अंतिम तिथि है। ऐसे में यदि इसी प्रकार से लापरवाही जारी रही, तो इससे आवेदन से वंचित रह जाएंगे। डाकघर के पोस्टमास्टर बालगोविंद मौर्य ने बताया कि गड़बड़ी दूर करने के लिए उच्चाधिकारियों को पत्र भेजा गया है। शीघ्र ही गड़बड़ी दूर कर ली जाएगी। जिला मुख्यालय के अलावा जलालपुर, बसखारी, आलापुर, टांडा व भीटी आदि क्षेत्रों में भी यही हाल है। युवक युवतियों को घंटों लाइन में लगने के लिए विवश होना पड़ रहा है।


जलालपुर में मिली कीर्ति वर्मा ने कहा कि बैंक हों या डाकघर। दोनों जगहों पर आधार कार्ड के लिए काउंटर की संख्या बढ़ाई जानी चाहिए।

प्रशासनिक अधिकारी भी इस बारे में मौन साधे हुए हैं। इसके चलते ही डाकघर व बैंक प्रशासन मनमानी कर रहा है। जलालपुर के आशुतोष ने कहा कि घंटों लाइन में लगे रहने वाले आवेदकों को लेकर प्रशासन का रवैया दुर्भाग्यपूर्ण है। जल्द से जल्द सभी जगहों पर काउंटर की संख्या बढ़ाई जाए। ऐसा कर न सिर्फ सुविधाजनक ढंग से आधार कार्ड बनवाने व संशोधन का कार्य कराया जा सकता है वरन कोरोना संक्रमण के बीच उमड़ रही अनावश्यक भीड़ को भी रोका जा सकता है।


सिस्टम में गड़बड़ी आने के बाद आधार कार्ड बनाने में आई बाधा के बाद मायूस होकर लौटी अफजलपुर की प्रीति ने कहा कि वह कक्षा 12 की छात्रा है। चार बार वह लाइन में लग चुकी है, लेकिन उसका आधार कार्ड अब तक नहीं बन सका है। पांच नवंबर छात्रवृत्ति आवेदन की अंतिम तिथि है। ऐसे में यदि समय रहते आधार कार्ड नहीं बना तो आवेदन करने से वंचित रह जाएंगे।


रामपुर सकरवारी से आए बीएससी के छात्र उमंग, कक्षा 10 की छात्रा पहितीपुर निवासी मोहिनी, दांदूपुर निवासी कशिश दुबे ने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि वह तीन चक्कर लगा चुकी है, लेकिन अब तक आधार नहीं बन सका है। नौगवां की शहनाज व गोपालपुर की शिवानी ने कहा कि यदि समय रहते आधार कार्ड नहीं बन सका, तो वह छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने से वंचित रह जाएंगी। छात्रों के हित को देखते हुए जिम्मेदारों को ठोस कदम उठाना चाहिए।


आधार कार्ड बनवाने व संशोधन कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही न हो, इसके निर्देश दिए गए हैं। बीते दिनों ही की गई समीक्षा में कहा गया है कि आवेदकों को किसी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए। इस बारे में एलडीएम को फिर से निर्देशित किया जाएगा।

विकाश कुमार निषाद जलालपुर अम्बेडकर नगर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *