Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN Editor - Neelam Dass, Add. - 105 Jawahar Marg, Ujjain M.P., India - Mob. N. - +91- 8770030644

वर्तमान में ढाई दर्जन नागरिक होम आईसोलेट होकर करवा रहे उपचार

नागदा जं. निप्र। कोरोना महामारी के इस दौर में देश के साथ-साथ प्रदेश तथा उज्जैन जिले में वर्तमान में कोरोना संक्रमितों की संख्या में प्रतिदिन इजाफा हो रहा है। आने वाले समय में शीत ऋतु में जानकारों के मत अनुसार संक्रमण का दायरा बढ सकता है।

ऐसे में शहर के लो सिम्टोमेटिक मरीजों को कोविड केयर सेंटर में उपचार दिए जाने की व्यवस्था शहर में ही करना होगी। कई बार इस प्रकार की परिस्थितियाॅं बनती है कि शहर के नागरिकों को संक्रमण के बाद माधव नगर एवं आरडीगार्डी में बेड नहीं होने पर अमलतास हाॅस्पिटल भेजे जाने की बात कही जाती है, जो कि अत्यधिक दूरी पर होने से नागरिकगण भयजदा हो जाते है। ऐसे में शहर में ही बडे बीमा अस्पताल को केयर सेंटर बनाया जा सकता है।

जिला कलेक्टर द्वारा उक्त संबंध में दो बार कवायद प्रारंभ की गई लेकिन अभी तक केयर सेंटर बनाने को लेकर ठोस कार्रवाई धरातल पर दिखाई नहीं दी है। हालांकि नवागत एसडीएम आशुतोष गोस्वामी के पदस्थ होने के बाद एक बार पुनः इसकी उम्मीद बंधी है।


32 एक्टीव केस में से 26 होम आईसोलेट


मामले में प्राप्त जानकारी के अनुसार नागदा शहर में वर्तमान में कोविड-19 के 32 एक्टीव केस है जिसमें से 26 ऐसे नागरिक है जो घर पर रहकर ही अपना उपचार करवा रहे है। बताया जाता है कि उक्त सभी व्यक्ति लो सिम्टोमेटिक होकर वर्तमान में ठीक है तथा इन्हें चिकित्सकीय परामर्श देकर घर पर इन सभी का उपचार स्थानिय स्वास्थ्य विभाग द्वारा किया जा रहा है।

इसके अलावा लगभग 6 ऐसे संक्रमित भी है जिनका अन्यंत्र उपचार जिला अस्पताल अथवा निजी अस्पतालों में चल रहा है। इनमें से भी कई ऐसे नागरिक है जिन्हें कम संक्रमण है लेकिन उन्हें अपना उपचार अन्य अस्तालों में करवाना पड रहा है। जबकि नागदा में ही यदि कोविड केयर सेंटर होता तो उनका उपचार भी यहीं किया जा सकता था। ऐसे में शहर में कोविड केयर सेंटर की अत्यधिक आवश्यकता महसुस की जा रही है।


इनका कहना है


नागदा में कोविड केयर सेंटर बनाने हेतु प्रक्रिया चल रही है। गाईड लाईन के तहत सभी व्यवस्थाऐं होते ही जिला प्रशासन के निर्देश पर केयर सेंटर प्रारंभ कर दिया जाऐगा।


आशुतोष गोस्वामी, अनुविभागीय अधिकारी, नागदा
वर्तमान में कुल 32 एक्टीव केस है, उनमें से 26 लोगों का उपचार होम आईसोलेशन में किया जा रहा है, 6 अन्य चिकित्सालयों में भर्ती होकर उपचारत है।


डाॅ. कमल सोलंकी, ब्लाॅक मेडिकल आॅफिसर, नागदा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *